January 20, 2017

ताज़ा खबर

 

कश्मीर हिंसा: 13 वर्षीय घायल बच्चे ने तोड़ा दम, मृतकों की संख्या बढ़कर हुई 91

कश्मीर में पिछले 91 दिनों से अशांति का माहौल है। 9 जुलाई को सुरक्षाबलों द्वारा हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को मार गिराए जाने के बाद से ही घाटी में अशांति का माहौल है।

(Photo-AFP)

जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षाबलों के साथ संघर्ष में घायल हुए 13 वर्षीय बच्चे जुनैद अहमद भट्ट की शनिवार (8 अक्टूबर) को मौत हो गई जिसके बाद घाटी में उपजी हिंसा में मृतकों की संख्या बढ़कर 91 हो गई है। श्रीनगर के सैदपोरा के रहने वाले जुनैद अहमद भट्ट को शुक्रवार को इलाज के लिए सौरा के शेर-ए-कश्मीर इन्स्टीच्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसकेआईएमएस) में भर्ती कराया गया था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “बच्चे की आज सुबह मौत हो गई।”

गौरतलब है कि कश्मीर में पिछले 91 दिनों से अशांति का माहौल है। 9 जुलाई को सुरक्षाबलों द्वारा हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को मार गिराए जाने के बाद से ही घाटी में अशांति का माहौल है। घाटी में सभी शैक्षणिक संस्थान, सार्वजनिक परिवहन साधन और मुख्य बाजार बंद हैं। घाटी के पुराने शहर नवहट्टा की मशहूर जामा मस्जिद में लगातार 13वें शुक्रवार भी नमाज अदा नहीं की गई। सोनवार इलाके में स्थित यूएन मिलिट्री ऑब्जर्वर्स ग्रुप के दफ्तर की ओर अलगाववादियों के मार्च को सुरक्षाबल भी रोकने में नाकाम रहे हैं।

वीडियो देखिए: गृह मंत्री ने की सीमावर्ती राज्यों की सुरक्षा की समीक्षा

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा, शोपियां और उत्तरी कश्मीर के बांदीपोर और श्रीनगर के कुछ हिस्सों में शुक्रवार की नमाज के बाद फिर हिंसा भड़की है। प्रशासन ने घाटी में सभी शैक्षणिक संस्थान, प्रमुख बाजार और आवागमन के साधनों को बंद कर रखा है। घाटी और बनिहाल के बीच ट्रेन सेवा को भी फिलहाल स्थगित रखा गया है। इस बीच,  कश्मीरी अलगाववादियों को स्पष्ट संदेश देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि केंद्र सरकार ऐसे लोगों से कोई बात नहीं करेगी जिनकी भारतीय संविधान में कोई आस्था नहीं है। उन्होंने कहा था कि सरकार केवल उनसे संवाद करेगी जो स्वयं को भारतीय समझते हैं। घाटी में पिछले कुछ महीने में स्थिति के चिंताजनक होने की बात को स्वीकार करते हुए शाह ने कहा कि अगर कोई यह सोचता है कि कश्मीर को भारत से अलग किया जा सकता है, तो वह उसका दिवास्वप्न है और यह कभी साकार नहीं होने वाला है।
Read Also-कश्मीर हिंसा: अमित शाह की अलगाववादियों को दो टूक, संविधान में आस्था नहीं रखने वालों से कोई बात नहीं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 8, 2016 10:45 am

सबरंग