ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने मोदी को बताया ‘हिटलर’ तो स्मृति बोलीं- शुक्रिया, बताने के लिए 42 साल लेट हो गए

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार (21 जुलाई, 2017) को ट्वीट कर केंद्र सरकार पर नाजी शासन की तरह 'हकीकत में गड़बड़ी' करने का आरोप लगाया।
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी (photo source – Indian express)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार (21 जुलाई, 2017) को ट्वीट कर केंद्र सरकार पर नाजी शासन की तरह ‘हकीकत में गड़बड़ी’ करने का आरोप लगाया। वहीं अन्य ट्वीट्स में राहुल गांधी ने मोदी सरकार को तानाशाह वाली सरकार बताते हुए कहा, ‘एक बार हिटलर ने कहा था कि वास्तविकता पर अच्छी पकड़ बनाए रखों ताकि जब चाहों तुम उसमें बदलाव कर सको। देश में आज ऐसा ही हो रहा है। केंद्र सरकार झूठ बोलकर गरीबों पर अत्याचार कर रही है।’ कांग्रेस उपाध्यक्ष के इन्हीं ट्वीट्स का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी शुक्रवार कहा, ‘इस विषय पर बात करने के लिए राहुल गांधी 42 साल लेट हो गए। हिटलर से कौन प्रेरित है यह बताने की जरूरत नहीं है। किसने आपातकाल लगाया और लोकतंत्र को किसने कुचला यह बात सबको पता है।’ वहीं राहुल गांधी ने अन्य ट्वीट में कहा, ‘उनका कहना है कि रोहित वेमुला ने आत्महत्या की। मैंने इसे हत्या कहा है। ये हत्या दुर्व्यवहार का सामना करने के कारण हुई। इसीलिए उसे मार दिया गया। उसे मार दिया गया क्योंकि वो दलित था।’ राहुल गांधी ने बैंगलोर में एक कार्यक्रम के दौरान ये बातें कहीं। राहुल गांधी ने आगे लिखा, ‘भाजपा झूठ को छिपाने की कोशिश कर रही है। जिससे एक बार फिर देश को राजतंत्र की तरफ ले जाया जा सके और उससे कोई सवाल ना करे। जहां लोगों को ताकत से कुचल दिया जाता है, उनकी आवाज को दबा दिया जाता है। जहां गरीबों और कमजोर लोगों को कुचल दिया जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक तानाशाह हैं और उनके साथी भी उनके खिलाफ आवाज उठाने से खौफ खाते हैं।

मोदी एक ऐसे राजा है जिनकी असलियत सब जानते हैं लेकिन कोई उनके खिलाफ आवाज उठाने की हिम्मत नहीं कर पाता है। आज हकीकत का गला घोटा जा रहा है।’ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने आगे कहा कि मोदी और संघ चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज सरेंडर कर दे। बता दें कि कर्नाटक सरकार की ओर से आयोजित तीन दिवसीय अंबेडकर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर राहुल ने कहा, ‘मोदी सरकार का मकसद भारतीय संविधान को तहस-नहस करना है, जो हमें अंबेडकर की ओर से दिया गया था। उन्होंने कहा कि भारत ने अपनी आजादी इसलिए गंवाई थी, क्योंकि जब अंग्रेज इसकी सरजमीं पर आए तो लाखों-करोड़ों लोग चुप रहे और अंग्रेजों को ऐसे सारे काम करने दिए जिनमें उन्हें आनंद आता था, क्योंकि वे शक्तिशाली थे। राहुल गांधी के इस बयान के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने उन्हें अपने अपनी पार्टी का इतिहास देखने की बात कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का भविष्य धूमिल है अपने देश का नहीं। उन्होंने शुक्रवार देर रात उन्होंने ट्वीट कर राहुल गांधी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि आपने जो कुछ भी किया है उसके लिए आपको भाजपा की ओर से धन्यवाद।

We must keep a firm grip on reality & never let them strangle it.
As Baba Saheb said let us “Educate, Agitate and Organise”#QuestForEquity

— Office of RG (@OfficeOfRG) July 21, 2017

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. P
    Parth Garg
    Jul 22, 2017 at 2:33 pm
    स्मृति शायद भूल गयीं है की उन्ही इंदिराजी को वाजपेयीजी ने देवी दुर्गा का सम्बोधन दिया था.
    Reply
सबरंग