ताज़ा खबर
 

ऑटो चालक ने किया सीरियल किलर और रेपिस्ट होने का दावा, महिला यात्री से बोला- तुम होगी मेरा अगला शिकार

गैस भरवाने के बाद थोड़ा आगे चलते ही चालक ने फिर से महिला से पैसों की मांग की लेकिन महिला ने इनकार कर दिया।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

बेंगलुरु में एक बहुत ही अजीब मामला देखने को मिला है जहां पर एक ऑटो चालक ने दावा किया है कि वह सीरियल रेपिस्ट है। यह घटना सोमावर के शाम करीब 7 बजे की है, जब 25 वर्षीय एक महिला ने यूबी सिटी स्थित अपने ऑफिस से घर कोरामंगला जाने के लिए एक ऑटो लिया। ऑटो में बैठने के बाद महिला ने देखा की मीटर काम नहीं कर रहा है, तो उसने इसकी जानकारी चालक को दी। चालक ने महिला से कहा कि आप चिंता मत किजीए मैं उतना ही किराया लूंगा, जितना आपका लगता है। इसके बाद चालक ने महिला से 200 रुपए मांगे और कहा कि उसे ऑटो में गैस भरवानी है। इन पैसों को वह किराए के समय एडजस्ट कर देगा। चालक के बात करने से महिला को लग रहा था कि उसने दारू पी रखी है।

खैर, महिला ने इस सबको नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद गैस भरवाने के बाद थोड़ा आगे चलते ही चालक ने फिर से महिला से पैसों की मांग की लेकिन महिला ने इनकार कर दिया। पैसों को लेकर दोनों के बीच काफी बहसबाजी हुई। इसके बाद आरोपी चालक उसे एक सुनसान जगह पर ले गया। वहां उसने महिला को धमकी देते हुए कहा कि वह एक सीरियल किलर और रेपिस्ट है। आरोपी की बात सुनकर महिला अचंभित हो गई। आरोपी ने महिला को डराते हुए बोला कि तुम मेरी अगली शिकार हो। महिला ने बताया कि इसके बाद आरोपी उसे ऑटो से फेंककर उसका पर्स छीनकर वहां से भाग गया।

वहां से किसी तरह निकलकर महिला पुलिस थाने पहुंची और आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया। आरोपी महिला के साथ जब बदसलूकी कर रहा था तब महिला ने उसकी एक फोटो खींच ली थी। एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि महिला की इस सूझबूझ से उन्हें आरोपी को पकड़ने में मदद मिलेगी। अधिकारी ने कहा कि आरोपी चालक के खिलाफ धारा 354 और 392 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी चालक की फोटो सभी पुलिस थानों में भेज दी गई है और उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 12, 2017 6:25 pm

  1. No Comments.
सबरंग