May 29, 2017

ताज़ा खबर

 

यूनिवर्सिटी से मान्यता मिले बिना कॉलेज ने ले लिया एडमिशन, परीक्षा भी ली, जब रिजल्ट नहीं आया तो छात्राओं ने किया गड़बड़झाले का पर्दाफाश

इस सबमें सबसे खास बात तो यह रही कि विश्वविद्यालय ने उल्टा छात्रों के खिलाफ यह कहकर केस दर्ज कराने का फैसला किया कि छात्रों ने दाखिले के समय फर्जी कागजात जमा कराए थे लेकिन एक लड़की ने हिम्मत दिखाते हुए इस पूरे घोटाले को सबके सामने लाकर रख दिया।

Author बेंगलुरू | March 18, 2017 14:53 pm
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

कर्नाटक के बेंगलुरू में एक कॉलेज द्वारा छात्रों के साथ ठगी करने का मामला सामने आया है। ये सभी बीबीए, बीकॉम और बीएससी के छात्र हैं। ये छात्र पहले सेमेस्टर का पेपर दे चुके हैं लेकिन अभी तक उनका रिजल्ट घोषित नहीं किया गया है। जब इसके बारे में एक छात्रा ने कॉलेज प्रशासन से पूछा तो कहा गया कि बेंगलुरू विश्वविद्यालय की तरफ से रिजल्ट जारी करने में देरी हो रही है लेकिन जब छात्रा ने विश्वविद्यालय पहुंचकर इस बारे में पूछा तो विश्वविद्यालय ने कहा कि उनके कॉलेज को विश्वविद्यालय से मान्यता ही नहीं मिली है। इस मामले की शिकायत छात्रा ने जनानाभारथी पुलिस स्टेशन में की है। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि कॉलेज प्रबंधन ने छात्रों से फीस लेकर उन्हें दाखिला देने की बात कही थी लेकिन असल में उनका दाखिला हुआ ही नहीं।

इस सबमें सबसे खास बात यह है कि विश्वविद्यालय ने उल्टा छात्रों के खिलाफ यह कहकर केस दर्ज कराने का फैसला किया कि छात्रों ने दाखिले के समय फर्जी कागजात जमा कराए थे लेकिन एक लड़की ने हिम्मत दिखाते हुए इस पूरे घोटाले को सबके सामने लाकर रख दिया। इसमें उसने अपने साथ 49 छात्रों को जोड़ा जिनके साथ भी ठगी की गई थी। लड़की अपनी सहपाठियों के साथ कॉलेज पहुंच गई और उसने प्रोफेसर, एचओडी और प्रिंसिपल से इस बारे में पूछा लेकिन उन्हें जवाब नहीं मिला कि क्यों बस उन्हीं के कॉलेज का रिजल्ट जारी नहीं किया गया है। इसके बाद वह बेंगलुरु विश्वविद्यालय पहुंची जहां पर उन्हें यह जानकर बहुत बड़ा धक्का लगा कि जिस कॉलेज में उन्होंने दाखिला लिया उसे विश्वविद्यालय से मान्यता प्राप्त ही नहीं है।

14 मार्च को कॉलेज के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। पुलिस ने इस मामले में 60 वर्षीय शाहनवाज और उसके तीन बेटों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है जो कि इस कॉलेज के मालिक हैं। साथ ही एक व्यक्ति की गिरफ्तारी की जा चुकी है और बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह इस घोटाले में कुछ नही जानता है वह तो केवल दाखिला कराने के लिए छात्रों को लाने का काम करता था। खैर इसमें गलती किसी की भी क्यों न हो लेकिन इसमें नुकसान उन छात्रों को झेलना पड़ा है जिनका इस सबमें पढ़ाई का पूरा एक साल बर्बाद हो गया।

देखिए वीडियो - बेंगलुरु छेड़छाड़ मामले में नया मोड़; महिला के जीजा ने रची थी छेड़छाड़ की साज़िश

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 18, 2017 2:50 pm

  1. No Comments.

सबरंग