ताज़ा खबर
 

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या

पुलिस हत्यारों की तलाश में जुट गई है। हत्यारों की तादाद चार बताई गई है। लंकेश कन्नड़ टैबलॉयड ‘गौरी लंकेश पत्रिका’ का संपादन करती थीं।
Author बंगलुरु | September 6, 2017 02:19 am
वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश। Photo Source-Twitter

हिंदुत्ववादी राजनीति के खिलाफ खुलकर विचार जाहिर करने वाली वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की मंगलवार को यहां गोली मारकर हत्या कर दी गई। कर्नाटक के पुलिस प्रमुख आरके दत्ता ने कहा कि राज राजेश्वरी इलाके में उनके आवास के प्रवेशद्वार पर अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हत्यारों ने उन्हें सात गोलियां मारीं। उनकी ठौर पर मौत हो गई। पुलिस हत्यारों की तलाश में जुट गई है। हत्यारों की तादाद चार बताई गई है।  लंकेश कन्नड़ टैबलॉयड ‘गौरी लंकेश पत्रिका’ का संपादन करती थीं। इसके अलावा कुछ दूसरे प्रकाशन की भी मालकिन थीं। दत्ता ने कहा कि लंकेश ने उनके साथ कई मुलाकातों के दौरान अपने जीवन पर खतरा बताया था। यह पूछने पर कि हत्या के संभावित संदिग्ध कौन हो सकते हैं, अधिकारी ने कयास लगाने से इनकार करते हुए कहा कि पहले जांच हो जाने दीजिए। कर्नाटक के गृह मंत्री रामल्ािंगा रेड्डी ने घटना की निंदा करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। पिछले वर्ष भाजपा सांसद प्रह्लाद जोशी की तरफ से दायर मानहानि मामले में उन्हें दोषी करार दिया गया था जिन्होंने उनके टैबलॉयड में भाजपा नेताओं के खिलाफ एक खबर पर आपत्ति जताई थी। मीडिया और सार्वजनिक क्षेत्र के लोगों ने ट्विटर पर लंकेश की हत्या पर नाराजगी जाहिर की।

मशहूर मीडिया हस्ती वीर सांघवी ने कहा, दशकों पुरानी एक मित्र, सहयोगी और प्रशंसक गौरी लंकेश की हत्या से क्षुब्ध हूं। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा, अगर यह भाजपा शासित राज्य होता तो नरमपंथी आपातकाल, असहिष्णुता, फासीवाद का रोना रोते। वकील और कार्यकर्ता प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया, दुखद और भयावह…भाजपा का भंडाफोड़ करने वाली बहादुर पत्रकार गौरी लंकेश की बंगलुरु स्थित आवास पर गोली मारकर हत्या कर दी गई।इस बीच गौरी लंकेश के भाई इंद्रजीत ने कहा कि इस हत्याकांड की सीबीआइ जांच होनी चाहिए। गौरी वरिष्ठ पत्रकार लेखक और अनुवादक पी लंकेश की बेटी हैं। उनकी हत्या के बाद उनके घर के बाहर लोगों की भीड़ लग गई और पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया। केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने गौरी की हत्या पर दुख जताते हुए कहा कि बहादुर पत्रकार गौरी की हत्या से स्तब्ध हूं। हत्यारों को जल्द पकड़कर सजा देनी चाहिए।.

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग