December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

कर्नाटक: सर्किल इंस्पेक्टर ने पुलिस स्टेशन में की आत्महत्या, सर्विस रिवॉल्वर से मारी खुद को गोली

मालुर पुलिस स्टेशन में तैनात 40 वर्षीय राघवेंद्र ने पुलिस स्टेशन में ही आत्महत्या कर ली। हालांकि उन्होंने यह कदम क्यों उठाया यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

कर्नाटक में पुलिस वालों के आत्महत्या करने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा। मंगलवार को कर्नाटक के कोलार जिले में एक सर्किल इंस्पेक्टर ने अपनी ही सर्विस रिवॉल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मालुर पुलिस स्टेशन में तैनात 40 वर्षीय राघवेंद्र ने पुलिस स्टेशन में ही आत्महत्या कर ली। हालांकि उन्होंने यह कदम क्यों उठाया यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है।

सूत्रों के मुताबिक, वह सोमवार को नाइट प्रेटोलिंग पर थे। वह रात 10:30 बजे स्टेशन से निकले थे। बताया जा रहा है कि रात 2 बजे उन्होंने ड्राइवर से वापस स्टेशन चलने को कहा था और स्टेशन पहुंचने के आधे घंटे बाद ही खुद को गोली मार ली। सूत्रों ने बताया कि वह काफी परेशान दिख रहे थे, यहां तक कि उस दिन उन्होंने अपने सहयोगियों से बात तक नहीं की थी। कोलार जिले के नरसापुरा के निवासी राघवेंद्र ने अपने पीछे पत्नी और एक बेटे को छोड़ दिया है।

भुवनेश्वर: सम अस्पताल में आग लगने से 19 की मौत; जांच के दिए गए आदेश

हालांकि शुरुआती जांच से पता लगा है कि राघवेंद्र के खिलाफ लोकायुक्त केस दर्ज किया गया था। गैम्ब्लिंग के मामले में उनके खिलाफ शिकायक दर्ज कराई गई थी। वहीं, राघवेंद्र के भाई ने बताया कि कुछ दिन पहले मालुर के एक स्थानीय निवासी ने उनके (राघवेंद्र) खिलाफ केस दर्ज करने की धमकी दी थी। उनके शव के पास सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उन्होंने आत्महत्या के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया है।

Read Also: जिसका रेप किया उससे शादी की, बेटी पैदा हुई तो 25 हजार में बेच दिया

बता दें कि जुलाई माह में एसीपी रैंक के दो अधिकारियों की आत्महत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई थी। दोनों पुलिस अधिकारियों ने एक हफ्ते के अंतर से आत्महत्या की थी। जहां सात जुलाई को मंगलुरु के पुलिस उपाधीक्षक एम के गणपति ने खुदकुशी की थी, वहीं इससे एक हफ्ते पहले बेंगलुरु स्थित विजयनगर पुलिस थाना में सब इंस्पेक्टर रूपा ताम्बड ने खुदकशी की कोशिश की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 18, 2016 1:05 pm

सबरंग