ताज़ा खबर
 

बीजेपी के हिंदुत्व पर भड़के कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, बोले- मेरा नाम ‘सिद्धा-राम’ है, 100 पर्सेंट हिंदू हूं

सांप्रदायिक तनाव का उल्लेख करते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि बीजेपी हिंदुत्व के मुद्दे को हवा देकर वोटों का ध्रुवीकरण करने की कोशिश है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया है कि वह भी एक हिंदू है लेकिन बीजेपी की तरह नहीं।
कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया।

बीजेपी पर हिंदुत्व के मुद्दे को आगे बढ़ाने का आरोप लगाते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने निशाना साधा। भाजपा पर हमला करते हुए सीएम ने कहा, “मैं खुद एक हिंदू हूं। क्या नाम है मेरा? यह सिद्धा-राम है। मैं 100 प्रतिशत हिंदू हूं।” उन्होंने बीजेपी पर हिंदुत्व के मुद्दे पर राजनीति करने आरोप लगाया है। दक्षिण कन्नड़ के सांप्रदायिक तनाव का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी हिंदुत्व के मुद्दे को हवा देकर वोटों का ध्रुवीकरण करने की कोशिश है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया है कि वह भी एक हिंदू है लेकिन बीजेपी की तरह नहीं। वह लोगों को बांटने की कोशिश नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने यूपी में मतों का ध्रुवीकरण करके जीत दर्ज की थी, लेकिन मैं बीजेपी को यह दोहराने नहीं दूंगा। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि बीजेपी कर्नाटक का दौरा कर रहे और इसे विस्तारक का नाम दे रहे हैं। इसका क्या मतलब है? यह हिंदुत्व के एजेंडे का विस्तार है।

चुनाव लड़ने को लेकर सिद्धारमैया ने कहा कि उन्होंने अभी तक अपने अगले निर्वाचन क्षेत्र को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है, लेकिन संकेत दिया है कि चामुंडेश्वरी से अपनी आखिरी चुनाव लड़ सकते हैं। चामुंडेश्वरी से 2006 में उप-चुनाव जीतने के बाद उनका राजनीतिक पुनर्जन्म हुआ था। बेटे की सीट पर उन्होंने कहा कि इसका फैसला हाईकमान करेगा। उन्होंने कहा कि राजनीति से सन्यास लेने के बाद वह मैसूर में रहेंगे। लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि वह सक्रिय राजनीति से अब अलग हो रहे हैं।

बता दें कि 2018 में कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने हैं। विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने हैं और दोनों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। बीजेपी के चुनाव अभियान की कमान पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के हाथों में है। हाल ही में कर्नाटक में भाजपा अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने सूबे के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को धमकी देते हुए कहा था कि वह खुद अपनी जिम्मेदारी पर प्रभावशाली आरएसएस नेता को गिरफ्तार करें। ‘अगर आरएसएस नेता कल्लड़का प्रभाकर भट्ट को किसी भी केस में गिरफ्तार किया गया तो संघ के सारे कार्यकर्ता सड़क पर उतर आएंगे। पूरा राज्य उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ जल उठेगा।’

बागपत में एक गांव में हिंदू मुस्लिम की शादी पर भड़के लोग

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग