ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु: होमवर्क ना करने पर 7 साल की बच्ची को चमड़े की बेल्ट से पीटा, केस दर्ज

कक्षा 2 में पढ़ने वाली इस सात साल की मासूम बच्ची के शरीर पर बन गए कई गहरे निशान, परिजनों ने आरोपी टीचर के खिलाफ केस दर्ज कराया है।
यह टीचर पिछले 15 सालों से प्राइवेट तौर पर स्टूडेंट्स को कोचिंग दे रही है।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में कक्षा 2 में पढ़ने वाली एक बच्ची को बुरी तरह पीटने का मामला सामने आया है। 7 साल की यह छात्रा बाहरी बेंगलुरु के नेलामंगला इलाके में स्थित सेंट जोसफ स्कूल में पढ़ती है। जानकारी के मुताबिक ट्यूशन पढ़ाने वाली टीचर ने इस बच्ची को चमड़े की बेल्ट से सिर्फ इसलिए पीटा गया क्योंकि उसने होमवर्क नहीं किया था। छात्रा पिछले एक साल से इस टीचर से प्राइवेट कोचिंग ले रही थी।

घटना मंगलवार की है, जब छात्रा बिना होमवर्क किए क्लास में आ गई। इस बात पर टीचर को जोरदार गुस्सा आ गया और उसने छात्रा को चमड़े की बेल्ट से बुरी तरह पीटा। पिटाई से छात्रा की कमर पर चोट के गहरे निशान बन गए थे। घर पहुंचने पर उसके पिता ने जब इन निशानों को देखा तो उन्होंने सीधा पुलिस में इसकी शिकायत की। यह शिक्षिका पिछले 15 सालों से प्राइवेट तौर पर स्टूडेंट्स को कोचिंग दे रही है। टीचर की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया, “यह पहली बार नहीं है जब इस महिला टीचर ने किसी स्टूडेंट की इस तरह पिटाई की हो। टीचर के खिलाफ पहले भी इस तरह के मामले का चुके हैं।वह पढ़ाई में कमजोर छात्रों को कई बार पीट चुकी है। मगर अक्सर परैंट्स अपने ही बच्चे की गलती समझकर उसके खिलाफ कुछ नहीं बोलते।”

पुलिस ने बताया कि हालांकि कुछ अभिभावक शिक्षक के खिलाफ आवाज उठा चुके हैं, मगर किसी ने भी आज तक पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई। पुलिस अधिकारी ने बताया, “यह पहली बार है जब इस टीचर के खिलाफ किसी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई हो। शिक्षक के खिलाफ जस्टिस जुवेनाइल एक्ट 82 समेत आईपीसी की कई धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग