ताज़ा खबर
 

आईफोन का ऐड दिखाने के लिए एसिड डाल जला डाले 17 पेड़, 13 पेड़ों की टहनियों को भी काट दिया

पेड़ों को जहर देकर विज्ञापन का जो हॉर्डिंग लगाया गया उसमें न्‍यूयॉर्क का सूर्यास्‍त की तस्‍वीर है।
बेंगलुरु में आईफोन के ऐड वाले हॉर्डिंग के लिए 17 पेड़ों में जहर डालने और 13 को काटने-छांटने का मामला सामने आया है। (Photo Source: The News Minute)

बेंगलुरु में आईफोन के ऐड वाले हॉर्डिंग के लिए 17 पेड़ों में जहर डालने और 13 को काटने-छांटने का मामला सामने आया है। द न्‍यूज मिनट की रिपोर्ट के अनुसार, यह हॉर्डिंग आर्चबिशप हाउस के अंदर लगाया गया है और एक ऐडवर्टाइजिंग कंपनी ने इसे लगाया है। विडंबना देखिए कि पेड़ों को जहर देकर विज्ञापन का जो हॉर्डिंग लगाया गया उसमें न्‍यूयॉर्क का सूर्यास्‍त की तस्‍वीर है। रिपोर्ट ने बृहन्‍बेंगलुरु महा नगर निगम(बीबीएमपी) के महादेवपुरा क्षेत्र के फॉरेस्‍ट्स के असिस्‍टेंट कंजर्वेटर थिमप्‍पा ने बताया कि विज्ञापन के हॉर्डिंग को दिखाने के लिए 17 पेड़ों में जहर दिया गया और 13 की टहनियां काट दी गई।

यह हॉर्डिंग अवैध है और नाइल एंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक अनाधिकारिक विज्ञापन कंपनी ने इसे लगाया है। पेड़ों में जहर डालने की जानकारी विजय निशांत नाम के शख्‍स ने बीबीएमपी अधिकारियों को दी। आर्चबिशप हाउस और नाइल एंटरप्रोइजेज को नोटिस जारी कर दिया गया है। इन्‍हें तीन दिन में जवाब देने को कहा गया है। शिकायत की जांच के बाद सामने आया कि जड़ों को खोदा गया और उसमें एसिड डाल दिया गया। इसके चलते पेड़ मुरझा गए और सूखने लगे।

थिमप्‍पा ने द न्‍यूज मिनट ने बताया कि केवल तीन पेड़ों को बचाया गया। यह सब केवल एक हॉर्डिंग के लिए किया गया। जांच में सामने आया कि कलामंदिर रोड पर एक अन्‍य हॉर्डिंग के लिए 10 अन्‍य पेड़ों की टहनियां भी काट दी गई। नोटिस में हॉर्डिंग की कीमत और आर्चबिशप को मिले पैसों की जानकारी मांगी गई है। जवाब आने के बाद देखा जाएगा कि क्‍या शिकायत कर्नाटक वृक्ष संरक्षण अधिनियम के दर्ज की जा सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.