ताज़ा खबर
 

तीन दिन बाद भी गौरी लंकेश की हत्या का नहीं मिला कोई सुराग

हमने एसआइटी के लिए पर्याप्त अधिकारी मुहैया कराए हैं और अगर उन्हें अतिरिक्त अधिकारियों की आवश्यकता है तो हम मुहैया कराने को तैयार हैं।
Author बंगलुरु/नई दिल्ली | September 9, 2017 03:51 am
पत्रकार गौरी लंकेश की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। (तस्वीर- फेसबुक)

कार्यकर्ता व पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के तीन दिन बाद भी अब तक हत्यारों के बारे में कोई सुराग नहीं मिल पाया है। कर्नाटक के गृह मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने गौरी लंकेश की हत्या के बारे में सुराग देने वाले को 10 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा शुक्रवार को की है। हालांकि पुलिस ने गुरुवार को आम लोगों से कहा था कि इस हत्या के सिलसिले में अगर उनके पास कोई जानकारी है तो वह साझा करें। इसके लिए एक ईमेल आइडी और एक विशिष्ट फोन नंबर भी दिया गया है। रेड्डी ने कहा कि मुख्यमंत्री (सिद्धारमैया ) ने जांच तेज करने और अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए हैं। हमने एसआइटी के लिए पर्याप्त अधिकारी मुहैया कराए हैं और अगर उन्हें अतिरिक्त अधिकारियों की आवश्यकता है तो हम मुहैया कराने को तैयार हैं।

मुख्यमंत्री ने इस मामले की जांच में प्रगति को लेकर एसआइटी के साथ बैठक की। राज्य सरकार ने बुधवार को 21 सदस्यीय एसआइटी टीम का गठन किया था। यह पूछे जाने पर कि गौरी के परिवार ने अपराधियों को पकड़ने में देरी की आशंका जताई है, रेड्डी ने कहा कि एसआइटी का गठन अपराधियों को जल्दी पकड़ने की मंशा से किया गया है। रेड्डी ने कहा कि उन्होंने एसआइटी से कहा कि वह भाजपा विधायक जीवराज से गौरी की हत्या के संबंध में उनके बयान को लेकर पूछताछ करे। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं मालूम कि उनके बयान की कोई पृष्ठभूमि है या नहीं। लेकिन जब गौरी लंकेश की मौत हुई, भाजपा का कोई नेता उनके घर नहीं गया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग