ताज़ा खबर
 

अखिलेश सरकार ने चुनावी एजेंडे में न होते हुए भी कानपुर को दी मेट्रो की सौगात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश सरकार को जितना पैसा चाहिये था उतना नहीं मिला जबकि प्रदेश से सबसे ज्यादा सांसद भारतीय जनता पार्टी को दिये।
Author कानपुर | October 4, 2016 17:54 pm
कानपुर में मेट्रो के उद्घाटन समारोह में भी जम कर राजनीति हुई।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश सरकार को जितना पैसा चाहिये था उतना नहीं मिला जबकि प्रदेश से सबसे ज्यादा सांसद भारतीय जनता पार्टी को दिये। अखिलेश ने कहा कि सपा ने मेट्रो ट्रेन का वायदा चुनावी एजेंडे में नहीं किया था। लखनऊ में मेट्रो ट्रेन का काम लगभग पूरा हो गया है और आज कानपुर में भी मेट्रो का काम शुरू हो गया है। अखिलेश ने कहा कि कानपुर को स्मार्ट सिटी का दर्जा दिया जा रहा है लेकिन यहां के लोग तो पहले से ही स्मार्ट है। दुनिया भर में पान मसाले की शुरूआत कानपुर से हुई और आज कानपुर का पान मसाला और गुटखा पूरी दुनिया में मशहूर है। शहर स्मार्ट हो रहा है तो लोग भी स्मार्ट होंगे इसलिये हमारी सरकार ने लोगों को स्मार्ट फोन देने की योजना बनाई है।

उन्होंने कहा कि पहले लैपटाप बांटे थे जिससे बहुत लोग लाभान्वित हुये लैपटाप जब खुलता तो हमारा और मुलायम सिंह जी का चेहरा दिखता है। इस बात को जनता याद रखेंगी। अखिलेश का इशारा आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को याद रखने का था।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज कानपुर में मेट्रो ट्रेन के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे। अपने निर्धारित समय से करीब एक घंटे की देरी से शहर के पालिका स्टेडियम में पहुंचे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और केंद्रीय शहरी विकास और सूचना प्रसारण मंत्री वेकैंया नायडू ने बटन दबाकर मेट्रो ट्रेन का शिलान्यास किया।

उन्होंने बताया कि करीब 32 किलोमीटर की इस मेट्रो ट्रेन चलो की योजना में 17 हजार करोड़ से अधिक की लागत आयेगी। यह योजना दो चरणों में होगी। योजना का पहला चरण आईआईटी कानपुर से नौबस्ता तथा दूसरा चरण एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी से नौबस्ता के बीच होगा। इस परियोजना के लिये उत्तर प्रदेश सरकार ने पचास करोड़ रूपये की धनराशि जारी कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग