ताज़ा खबर
 

JNU विवाद: क्या एबीवीपी सदस्यों ने लगाए थे ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे ?

एबीवीपी ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि संगठन की छवि धूमिल करने के लिए वीडियो से 'छेड़छाड़' की गई है।
Author नई दिल्ली | February 14, 2016 21:31 pm
एबीवीपी ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि संगठन की छवि धूमिल करने के लिए वीडियो से ‘छेड़छाड़’ की गई है। (पीटीआई फोटो)

संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की फांसी के विरोध में जेएनयू में आयोजित कार्यक्रम पर पैदा हुए विवाद के तूल पकड़ने के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब साझा किया जा रहा है जिसमें कथित तौर पर आरएसएस-भाजपा की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के सदस्य पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करते दिख रहे हैं। बहरहाल, एबीवीपी ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि संगठन की छवि धूमिल करने के लिए वीडियो से ‘छेड़छाड़’ की गई है।

‘‘दि कॉंस्पिरेसी’’ शीर्षक से सोशल मीडिया पर डाले गए एक मिनट 32 सेकंड के इस वीडियो में कथित तौर पर एबीवीपी से जुड़े छात्र ‘‘पाकिस्तान जिंदाबाद’’ के नारे लगाते दिख रहे हैं। वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्रों का आरोप है कि एबीवीपी के सदस्यों ने देश विरोधी नारे लगाए थे जिससे भीड़, जिसमें विभिन्न संगठनों से जुड़े छात्र और बाहरी लोग शामिल थे, भी ऐसा करने लगी।

वामपंथी पार्टी भाकपा-माले की छात्र शाखा आइसा से जुड़े एक छात्र ने कहा, ‘‘वे वह लोग जिन्होंने ऐसे नारे लगाए और उस बैठक में बाधा उत्पन्न की जिसमें शांति से मुद्दे पर चर्चा हो रही थी। हम तो यह भी नहीं जानते कि किसने क्या कहा और उन्होंने बड़ी आसानी से हर छात्र को देशद्रोही के तौर पर प्रचारित कर दिया।’’

जेएनयू छात्रसंघ के संयुक्त सचिव सौरभ कुमार शर्मा, जो छात्रसंघ में एबीवीपी के एकमात्र पदाधिकारी हैं, ने कहा, ‘‘यह सब हमारी छवि धूमिल करने और हम पर हमला करने की चाल है, क्योंकि हमने देशद्रोही गतिविधियों पर आपत्ति की। हमें बदनाम कर गलत सूचना फैलाने के मकसद से वीडियो से छेड़छाड़ की गई है।’’ बहरहाल, जेएनयू के अधिकारियों ने इस बाबत कोई टिप्पणी नहीं की कि यूनिवर्सिटी की जांच समिति को उपलब्ध कराए गए इस वीडियो में दिखाई दे रहे सदस्य एबीवीपी के हैं या नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    Babubhai
    Feb 14, 2016 at 4:06 pm
    Ye baat to siddh ho chuki he ki deshdaz rakhanevalranevale BJP व vale ho n ho. Magar desh drohiyoko bachanevalesamarthan karnevaloke congressional,aap,or left to he hi
    Reply
  2. D
    Dinesh Singh
    Feb 14, 2016 at 5:40 pm
    भाजपाईयो से क्या उम्मीद वे झूट बोलने और खड़यन्त्रो के बादशाह है. कर दिया खड़यन्त्र और फसा दिया कन्हैया को. मोदी दुश्मन के घर बिना बुलाये जाके खीर खाए तो देश भक्त. तुम अब्वप का विरोद करो तो देशद्रोही. जबकि नारा भी अब्वप ने ही लहए हैं. ज़ी न्यूज़ ने तो वीडियो ही हटा लिया. पहले वही वीडियो दिखा कर भ्रम फैलाया और जब उल्टा पद गया तो वीडियो ही हटा लिया. ये है देश द्रोही. यदि वीडियो सच्ची है तो दिखाते रहो.
    Reply
  3. M
    manish upadhyay
    Feb 15, 2016 at 4:58 am
    AAP log kripa karaoke rajniti band kariye .. hamare desh ko bachane ke liye mil kar aawaz uthaiye.@bhu
    Reply
  4. R
    Ritesh
    Feb 15, 2016 at 9:33 am
    Mujhe to lagata hai tu bhi isme samil ho kisi nakisi roop में Kya sahi hai
    Reply
  5. S
    suresh k
    Feb 15, 2016 at 8:32 am
    ये तो यही बात हुई की संसद पर हा भी ए बी वि पी ने किया था , ऐसी सबूत मांगने की बात तो पाकिस्तान और हाफिज सईद करते है , पुलिस और न्यायालय पर भी भरोसा नहीं तो पाकिस्तान चले जाओ , हाफिज तुम सबको निा देगा , वह जाकर लगाना भारत जिंदाबाद का नारा , जिन्दा जमीं में गाड़ देंगे , वह कोई राहुल , कम्युनिस्ट थोड़े है वकालत के लिए
    Reply
  6. Load More Comments
सबरंग