ताज़ा खबर
 

महिला IAS अफसर ने छुट्टी के लिए फेसबुक पर लगाई फरियाद तब मिली चाइल्ड केयर लीव

वंदना डाडेल पहले भी सोशल मीडिया पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी कर चुकी हैं।
वंदना डाडेल साल 1995 बैच की आईएएस अधिकारी हैं।

झारखंड की पंचायती राज सचिव वंदना डाडेल ने फरवरी में ही 25 दिनों की चाइल्ड केयर लीव का आवेदन दिया था लेकिन सरकार ने उनके आवेदन पर कोई विचार नहीं किया। इससे आहत वंदना डाडेल ने सोशल साइट फेसबुक का सहारा लिया और आईएएस एसोसिएशन को टैग करते हुए उन्होंने पोस्ट किया कि क्या सरकार उनका चाइल्ड केयर लीव अनिश्चितकाल के लिए पेंडिंग रखेगी? वंडना ने मई-जून महीने में 25 दिन के चाइल्ड केयर लीव की मांग फरवरी में ही की थी। सोशल मीडिया पर उनका पोस्ट शेयर होते ही अधिकारी फौरन हरकत में आ गए। कार्मिक विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक महिला अधिकारी की समस्या का हल निकाल लिया गया है और संबंधित अधिकारी को तुरंत उनकी छुट्टी मंजूर करने को कहा गया है।

वंदना के पोस्ट पर राज्य के पूर्व मुख्य सचिव शिव बसंत ने कमेंट करते हुए लिखा है कि इसे निजी ना लें। उन्होंने लिखा है, वंदना, आप इसे व्यक्तिगत तौर पर नहीं लें। ऐसा कभी-कभार होता है। मैं व्यक्तिगत तौर पर महसूस करता हूं कि इसे इश्यू नहीं बनाना चाहिए। आप कार्मिक सचिव के जरिए इसे सुलझा लें। इसके जवाब में वंदना ने भी लंबा कमेंट लिखा है कि वो इस मामले को दिल पर नहीं ले रही हैं। वंदना की छुट्टी की अर्जी कार्मिक विभाग के जरिए मुख्य सचिव कार्यालय को भेजी गई थी।

गौरतलब है कि वंदना डाडेल पहले भी सोशल मीडिया पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी कर चुकी हैं। पिछले साल अक्टूबर में उन्होंने धर्म परिवर्तन के मुद्दे पर 20 अक्टूबर को एक पोस्ट में लिखा था कि किसी सरकारी कार्यक्रम के दौरान आदिवासियों के धर्म के बारे में सवाल किया जाता है तो दिमाग में एक सवाल उठता है- क्या जनजातीय समुदाय के लोगों को अपनी पसंद के अनुसार किसी धर्म को चुनने का अधिकार नहीं है? बता दें कि वंदना डाडेल साल 1995 बैच की आईएएस अधिकारी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग