June 29, 2017

ताज़ा खबर
 

जमेशदपुर में 6 गांव के करीब 100 लोगों ने 3 पशु व्यापारियों को घेर कर जान से मारा

हेज़ल गांव के पास कुछ लोगों ने गाड़ियों को रोकने की कोशिश की लेकिन वे नहीं रुकी।

Author जमशेदपुर | May 19, 2017 10:49 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जमेशदपुर में करीब 100 लोगों की भीड़ द्वारा 3 मवेशी व्यापारियों की हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। यह मामला सरायकेला के राजनगर इलाके का है। गुरुवार को सुबह के करीब चार बजे शेख हालिम, शेख सज्जू, शेख सिराज और शेख नईम दो गाड़ियों से राजनगर इलाके से गुजर रहे थे। उस इलाके में बच्चा चोरी की कई वारदातें हो रही थीं तो लोगों को लगा कि ये लोग बच्चा चुराने वाला गैंग है। हेज़ल गांव के पास कुछ लोगों ने गाड़ियों को रोकने की कोशिश की लेकिन वे नहीं रुकी। इसके बाद भीड़ ने गाड़ी का पीछा कर उसे डारु गांव में जबरदस्ती रुकवा लिया।

गाड़ी के रुकते ही उग्र भीड़ ने सबसे पहले नईम पर हमला किया। भीड़ ने बहुत ही निर्दयता के साथ नईम के साथ मारपीट की। इसी बीच हालिम, सज्जू और सिराज को वहां से भागने का मौका मिल गया। सुबह के करीब 6 बजे आस-पास के गांवों के लोग तीनों की तलाश करते रहे। शोभापुर गांव के पास भीड़ ने सिराज और सज्जू को पकड़ लिया। इसके बाद भीड़ ने उनकी भी पीट-पीटकर हत्या कर दी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस भीड़ में  6 गांवो के करीब 100 लोग थे जिन्होंने बहुत ही बेरहमी के साथ तीन मवेशी व्यापारियों की हत्या की।

इसके बाद एक स्थानीय निवासी ने इस मामले की शिकायत पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को शांत कराने की कोशिश की लेकिन भीड़ ने पुलिसवालों पर ही हमला कर दिया। वहीं पुलिस की एक टीम को नईम घायल अव्स्था में मिला, जिसके बाद पुलिस उसे सरायकेला सबडिवीज़नल अस्पताल में ले गई, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस मामले की जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने कहा कि इस इलाके में कई दिनों से बच्चा चोरी की वारदातें हो रही हैं इसलिए लोग पहरा देते हैं। पिछले हफ्ते भी इस इलाके में दो मवेशी व्यापारियों को बच्चा चोर समझकर उनकी हत्या कर दी गई थी।

देखिए वीडियो - झारखंड: पूर्व डिप्टी मेयर समेत चार लोगों को गोलियों से भूना, शहर में CISF तैनात

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 19, 2017 9:20 am

  1. No Comments.
सबरंग