December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

गाय की ‘आपत्तिजनक फोटो’ के बाद कस्टडी में मौत का मामला: पोस्टमॉर्टम में मिले चोटों और खून बहने के निशान

झारखंड में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता लगा कि मिनाज अंसारी की मौत रक्तस्राव और सदमे से हुई है।

प्रतिकात्मक तस्वीर।

झारखंड में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता लगा कि मिनाज अंसारी की मौत रक्तस्राव और सदमे से हुई। मिनाज की आंतों को अब भी संभालकर रखा गया है जिसे बाद में किसी जांच के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। 22 साल के मिनाज अंसारी की 9 अक्टूबर को राजेंद्र इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (RIMS) में मौत हो गई थी। आरोप था कि मिनाज की मौत पुलिस द्वारा टॉर्चर करने पर हुई। इंडियन एक्सप्रेस को भी मिनाज की पोस्टमॉर्ट्म रिपोर्ट की कॉपी मिली। उसे देखने पर पता लगा कि मिनाज की बॉडी पर खरोंच के कई निशान मौजूद थे। रिपोर्ट के मुताबिक, मिनाज के शरीर पर मौजूद निशान किसी ‘कठोर चीज’ के लगने की वजह से पड़े थे। मिनाज की छोटी आंतों के एक तिहाई हिस्से में खून भरा हुआ था। यह पोस्टमॉर्टम 9 अक्टूबर को मेडिकल बोर्ड की तरफ से किया गया। पोस्टमॉर्टम का वीडियो भी बनाया गया था।

वीडियो: Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

रिपोर्ट में यह नहीं बताया गया है कि क्या मिनाज को कोई बीमारी थी ? क्योंकि इससे पहले तक पुलिस का कहना था कि मिनाज के मस्तिष्क में सूजन थी। इस बात की पुष्टि करने के लिए पैथलॉजी टेस्ट किया जाएगा। डिप्टी कमिशनर रमेश कुमार दुबे ने कहा, ‘ आरोपी सब इंस्पेक्टर पर मर्डर का केस रजिस्टर कर लिया गया है। फाइनल रिपोर्ट आने के बाद आगे कार्रवाई होगी।’ रमेश कुमार ने आगे बताया कि रिपोर्ट में भले ही बीमारी का जिक्र ना आया हो लेकिन धनबाद के एक हॉस्पिटल में मिनाज को मष्तिष्क के इलाज के लिए भी भर्ती करवाया गया था। उस हॉस्पिटल के लोगों ने भी मिनाज के बीमार होने की बात मानी थी।

Read Also: मुस्लिम लड़के की पुलिस हिरासत में मौत, व्हाट्सअप पर बीफ पर किया था ‘आपत्तिजनक’ कमेंट

गौरतलब है, 2 अक्टूबर को बीफ को लेकर एक मैसेज व्हाट्सअप के जरिए झारखंड के दिगहारी गांव में फैलना शुरू हुआ। शिकायत के बाद कुछ लोगों को पकड़ा गया। बाकी लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया और मिनाज को हिरासत में ले लिया गया। दो दिन बाद मिनाज के पिता उमर शेख और बाकी परिवार को पता लगा कि मिनाज को इलाज के लिए धनबाद के एक हॉस्पिटल में ले जाया गया है। घरवालों को पता लगा था कि पुलिस हिरासत में मिनाज जख्मी हुआ है। 7 अक्टूबर को मिनाज को RIMS लाया गया। दो दिन बाद वहीं पर उसकी मौत हो गई। मिनाज के परिवार को 2 लाख रुपए देने की बात भी कही गई थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 22, 2016 8:14 am

सबरंग