May 26, 2017

ताज़ा खबर

 

जम्मू और कश्मीर: शांति की कोशिशों के बीच फिर घुसपैठ और गोलीबारी

तनाव कम करने के लिए दोनों देशों के एनएसए ने की बात।

Author जम्मू | October 4, 2016 04:07 am
उरी में तैनात भारतीय सेना का जवान। (Photo- PTI/File)

पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार दिन में चार बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। उन्होंने पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के करीब अग्रिम चौकियों और रिहाइशी इलाकों को निशाना बनाया। इस दौरान 120 एमएम के मोर्टार बम दागे गए और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की गई। इसका भारतीय सैनिकों ने माकूल जवाब दिया। गोलीबारी में दो लोगों के जख्मी होने की खबर है। पाकिस्तानी सेना ने भारत पर सीमा रेखा के करीब नेजा पीर सेक्टर में अकारण गोलीबारी करने का आरोप लगाया है। वहीं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार के मुताबिक भारत-पाक के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार टेलीफोन पर हुई बातचीत में नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने पर सहमत हुए हैं।

पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ जिले के शाहपुर, कृष्णगटी, मंडी और सब्जियां सेक्टरों में नियंत्रण रेखा के पास गोले दागे। रक्षा प्रवक्ता कर्नल मनीष मेहता ने कहा, ‘पाकिस्तानी सैनिक पुंछ जिले के मंडी और सब्जियां सेक्टरों में सोमवार दोपहर के पौने दो बजे से अकारण गोलीबारी कर रहे हैं।’ उन्होंने बताया कि उन लोगों ने 120 एमएम, 80 एमएम के मोर्टार बम दागे और स्वचालित व छोटे हथियारों से गोलीबारी की। प्रवक्ता ने साथ ही बताया कि दोनों ओर से गोलीबारी जारी है। कर्नल मेहता ने बताया कि इससे पहले पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ में छोटे और स्वचालित हथियारों से गोलीबारी और मोर्टार बम दागकर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। उन्होंने कहा कि दूसरी ओर से हो रही गोलीबारी का माकूल और करारा जवाब दिया गया और संघर्ष बाकी पेज 8 पर उङ्मल्ल३्र४ी ३ङ्म स्रँी 8
विराम का उल्लंघन जारी है।

वहीं एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि गोलीबारी सुबह करीब पौने 11 बजे शुरू हुई और अब भी जारी है। अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले रात के करीब एक बजे पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ जिले के कृष्णगटी सेक्टर में संक्षिप्त गोलीबारी की थी। पुंछ के उपायुक्त मोहम्मद हारून मलिक ने कहा कि सीमावर्ती इलाकों से मिल रही खबरों के मुताबिक दो नागरिकों को मामूली चोटें आई हैं।  पाकिस्तान की ओर से सोमवार तक चार बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया। 28-29 सितंबर की दरम्यानी रात को भारतीय सेना की ओर से किए गए लक्षित हमले (सर्जिकल स्ट्राइक) के बाद दसवीं बार ऐसा किया गया। पाकिस्तान ने रविवार शाम जम्मू जिले के पल्लनवाला के अग्रिम इलाकों में गोलीबारी की थी। एक अक्तूबर को इसी सेक्टर में छोटे हथियारों से गोलीबारी के बीच पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय चौकियों और रिहाइशी इलाकों में मोर्टार बम, आरपीजीएस और एचएमजीएस दागे। इससे पहले 30 सितंबर को पाक सैनिकों ने जम्मू जिले के अखनूर सेक्टर के पल्लनवाला, छपरियाल और समनाम इलाकों में नियंत्रण रेखा पर छोटे हथियारों से गोलीबारी की।

इसके एक दिन पहले पाकिस्तान के सैनिकों ने मंढेर सेक्टर के बलनोई इलाके में गोलीबारी की। पाक सैनिकों ने 28 सितंबर को पुंछ जिले के सब्जियां इलाके में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। इस महीने की शुरुआत में भी पाक सैनिकों ने विभिन्न सेक्टरों में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था।  पिछले साल पाकिस्तान ने 405 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। इन घटनाओं में 16 नागरिकों की मौत हो गई थी और 71 लोग घायल हुए थे।

उधर, इस्लामाबाद में पाकिस्तानी सेना ने दावा किया कि भारतीय सैनिकों ने सीमा रेखा के करीब नेजा पीर सेक्टर में अकारण गोलीबारी की। पाकिस्तानी सेना की ओर से जारी बयान में आरोप लगाया गया है, ‘भारत के आक्रामक रुख के मद्देनजर आज सुबह करीब साढ़े 11 बजे दोनों ओर से गोलीबारी शुरू हुई।’ बयान में दावा किया गया है कि भारत ने नियंत्रण रेखा के करीब इफ्तिखाराबाद सेक्टर में अकारण गोलीबारी की।  वहीं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने सोमवार को कहा कि भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नासिर जांजुआ ने फोन पर बातकर नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने पर सहमति जताई है। उड़ी हमले के बाद भारत की ओर से किए गए लक्षित हमले के बाद दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव के बीच दोनों एनएसए के बीच यह पहली बातचीत है।

पाकिस्तानी समाचार चैनल जियो न्यूज ने अजीज के हवाले से कहा, ‘पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करना चाहता है और कश्मीर पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है।’ उन्होंने आरोप लगाया कि भारत तनाव को बढ़ाकर कश्मीर मसले से दुनिया का ध्यान भटकाना चाहता है। नवाज शरीफ के हालिया अमेरिकी दौरे के बारे में अजीज ने कहा कि प्रधानमंत्री ने विश्वभर के नेताओं को बता दिया है कि जब तक कश्मीर विवाद का हल नहीं निकलता तब तक दोनों देशों के बीच सीमा पर तनाव बना रहेगा।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 4, 2016 2:57 am

  1. No Comments.

सबरंग