ताज़ा खबर
 

बड़ी कामयाबी: पुलवामा मुठभेड़ में मारा गया जैश सरगना अजहर मसूद का भतीजा

जैश-ए-मोहम्मद ने एक प्रेस रिलीज जारी की है जिसमें पुष्टि की गई है कि ताल्हा रशीद जैश सरगना अजहर मसूद का भतीजा था।
जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सोमवार को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया था जिसमें जैश-ए-मोहम्मद चीफ अजहर मसूद का भतीजा भी शामिल था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार भारतीय सेना 44 आरआर और 182 सीआरपीएफ द्वारा कांडी इलाके में आतंकियों को पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया गया था। इस ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी तो मारे गए लेकिन एक जवान भी शहीद हो गया। सेना को आतंकियों के पास से एक पिस्टल और दो एके-47 बरामद हुई हैं।

मुठभेड़ में शहीद हुए जवान की पहचान लांस नायक वृहमा पाल सिंह के रूप में हुई हैं। वहीं सेना द्वारा मारे गए आतंकियों की पहचान ताल्हा राशिद जो कि अजहर मसूर का भतीजा था, अन्य दो आतंकी में से वसीम अहमद स्थानीय निवासी था और तीसरे आतंकी का नाम मेहमूद भाई था। कश्मीर डिस्पेच के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद ने एक प्रेस रिलीज जारी की है जिसमें पुष्टि की गई है कि ताल्हा रशीद जैश सरगना अजहर मसूद का भतीजा था।

बता दें कि जैश सरगना अजहर मसूद को पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले का मास्टरमाइंड बताया जा है। इसके अलावा 1999 में कंधार एयरलाइन अपहरण मामले में भी मसूद का ही हाथ था। मसूद भारत की जेल में बंद था इसलिए उसे छुड़वाने के लिए आतंकियों ने इंडियन एयरलाइन्स का अपहरण कर भारत सरकार के सामने अजहर मसूद समेत तीन आतकियों को रिहा करने की मांग की थी। सरकार विमान में मौजूद 178 यात्रियों को सकुशल आतंकियों के चंगुल से छुड़ाना चाहती थी इसलिए सरकार को मसूद समेत अन्य आतंकियों को रिहा करना पड़ा था। मसूद केवल भारत में ही नहीं अन्य देशों में भी अपना आतंक फैलाए हुए हैं। वहीं  अमेरिका, ब्रिटेन, भारत और फ्रांस द्वारा संयुक्त राष्ट्र से मांग की जा रही है कि अजहर मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित कर देना चाहिए।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.