December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

इशरत जहां एनकाउंटर की जांच करने वाले IPS की बेटी ने दर्ज कराई जानलेवा हमले की रिपोर्ट, सुरक्षा गार्ड्स कह रहे- हमने कुछ नहीं देखा

इशरत जहां एनकाउंटर केस की सीबीआई जांच करने वाले आईपीएस अधिकारी सतीश वर्मा की बेटी पर जानलेवा हमला होने का मामला सामने आया है।

सतीश वर्मा। (फाइल फोटो)

इशरत जहां एनकाउंटर केस की सीबीआई जांच करने वाले आईपीएस अधिकारी सतीश वर्मा की बेटी पर जानलेवा हमला होने का मामला सामने आया है। सतीश की 17 साल की बेटी का दावा है कि 26 नवंबर की देर रात किसी अंजान हमलावर ने उनके घर में घुसकर जानलेवा हमला किया। एक सीनियर पुलिस अधिकारी के मुताबिक लड़की ने हिम्मत दिखाते हुए हमलावर का सामना किया और उसे भागना पड़ा। उन्होंने यह भी बताया कि लड़की ने कुछ दूरी तक हमलावर का पीछा भी किया। हमले में वर्मा की बेटी को कोई गंभीर चोट नहीं आई है।

पुलिस के मुताबिक वर्मा की बेटी घर पर अकेली थीं। अहमदाबाद के समर्पन इलाके के ऑफिसर्स क्वार्टर में हुई इस घटना की रिपोर्ट गुजरात यूनिवर्सिटी पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई है। अहमदाबाद पुलिस कमिश्नर ए.के. सिंह ने कहा है कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। बिल्डिंग के लिफ्टमैन और सुरक्षा के लिए बनाए गए टावर पर तैनात स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स के अफसरों के बयान भी लिए गए हैं लेकिन सभी ने कहा है कि उन्होंने उस रात कुछ नहीं देखा। इसलिए अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है। वारदात की जगह पर से एक प्लास्टिक बैग बरामद किया गया है जिसमें दो छेद थे। पुलिस को शक है कि हमलावर ने इसका इस्तेमाल अपना मुंह छुपाने के लिए किया होगा।

वहीं दूसरी तरफ मामले पर सतीश वर्मा ने बात करने से इंकार कर दिया है। वर्मा अभी त्रिपुरा में  आईजी (सीआरपीएफ) हैं। घटना की जानकारी मिलते ही वह अहमदाबाद पहुंचे। सतीश वर्मा ने इशरत जहां एनकाउंटर केस की सीबीआई जांच की थी। इसके बाद गुजरात सरकार से उनके रिश्ते तल्ख रहे थे। उनका दो साल में दो बार ट्रांस्फर हो चुका है। त्रिपुरा से पहले उनकी तैनाती शिलांग में थी।

वर्मा ने इशरत एनकाउंटर केस की जांच को लीड किया था। एनकाउंटर मामले में उन्होंने गुजरात के डीजीपी पी.पी. पांडे, आईपीएस (रिटायर्ड) डी.जी. वंजारा, जी.एल. सिंघल और चार और अफसरों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी।

वीडियो:अहमदाबाद की दीवारों पर लगे हैं ‘गुजरात खबरदार, केजरीवाल आ रहे हैं’ के पोस्टर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 28, 2016 4:33 pm

सबरंग