December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

हरियाणा: गाय से जुड़े अपराधों के हर 6 आरोपी में एक हिंदू

हरियाणा गोवंश संरक्षण एवं गोसंवर्धन अधिनियम 2015 के तहत पुलिस ने 1 जनवरी से 31 अगस्त 2016 के बीच 513 मामले दर्ज किए हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार बनने के बाद गोहत्या के खिलाफ संभवतः देश का सबसे कड़ा कानून बनाया गया। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार पिछले आठ महीने में राज्य में 86 हिंदुओं पर गाय की तस्करी और गाय से जुड़े दूसरे अपराधों के मामले दर्ज किए गए हैं। इस दौरान गाय की तस्करी और गाय से जुड़े अन्य अपराधों में 421 मुसलमानों पर केस दर्ज किया गया। इनके अलावा करीब आधा दर्जन सिख भी गाय संबंधित मामलों में आरोपी हैं। बुधवार (26 अक्टूबर) को राज्य की बीजेपी सरकार अपने दो साल पूरे कर रही है।

हरियाणा गोवंश संरक्षण एवं गोसंवर्धन अधिनियम 2015 के तहत राज्य की पुलिस ने 1 जनवरी से 31 अगस्त 2016 के बीच 513 मामले दर्ज किए हैं। इनमें सबसे ज्यादा मामले गाय की तस्करी से जुड़े हैं। वहीं कुछ मामले गोहत्या और बीफ बेचने के भी हैं। इन सभी मामलों में 170 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

वीडियो: देखिए पिछले 24 घंटे की पांच बड़ी खबरें- 

हरियाणा के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने टीओआई को बताया कि गाय की तस्करी में सभी धर्मों के लोग शामिल हैं। गाय की तस्करी के सबसे अधिक मामले मेवात, हिसार, फतेहाबाद, मेहम, भिवानी, रेवाड़ी, भिवानी, महेंद्रगढ़ और पानीपत में सामने आए। पुलिस के अनुसार राजस्थान के जयपुर स्थित गोशाला से भी गायों की तस्करी करके उन्हें मेवात लाया जाता है। इन आंकड़ों के सामने आने के बाद गोरक्षा से जुड़े लोगों ने आरोप लगाया कि तस्कर खुद को बचाने के लिए हिंदुओं का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कुछ लोगों का मामला है कि ये मामला कारोबारी है और इसे धर्म से जोड़ना उचित नहीं है।

राज्य में बीजेपी सरकार बनने के बाद से स्वघोषित गोरक्षा दलों द्वारा कथित गाय तस्करों की पिटाई के कई मामले सामने आ चुके हैं। वहीं हरियाणा के कई इलाकों में बिरयानी में बीफ का इस्तेमाल करने को लेकर भी मारपीट हो चुकी है। पुलिस ने कई बिरयानी बेचने वालों के सैंपल लिए थे और कुछ में बीफ के इस्तेमाल के बात कही थी। हालांकि बिरयानी बेचने वालों के अनुसार वो गाय का मांस नहीं बल्कि भैंस के मांस का प्रयोग करते हैं। केंद्र में 2014 मेें बीजेपी गठबंधन की सरकार आने के बाद देश के कई राज्यों में गाय संबंधी हिंसाओं में काफी बढ़ोतरी हुई है। गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, मध्य प्रदेश जैसे बीजेपी शासित प्रदेशों के अलावा यूपी और बिहार जैसे प्रदेशों में भी गाय या बीफ से जुड़ी हिंसा का मामले बढ़े हैं।

Read Also: कर्नाटक: गाय लेकर जा रहा था बीजेपी कार्यकर्ता, हिन्दू जागरण वैदिक के ‘गोरक्षकों’ ने की हत्या

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 26, 2016 9:38 am

सबरंग