ताज़ा खबर
 

IIMC: दलित के खिलाफ FB पर पोस्ट करने वाले छात्र ने अधिकारी को लिखा पत्र, कहा-खतरे में है उसका भविष्य

भारतीय जनसंचार संस्थान (आइआइएमसी) में शुक्रवार को होने वाले वार्षिक दीक्षांत समारोह से पहले गुरुवार को तनाव बना रहा। संस्थान में ‘जातिवादी’ टिप्पणियों के आरोपों को लेकर उसके पूर्व छात्रों के एक वर्ग ने समारोह के बहिष्कार का फैसला किया है।
Author नई दिल्ली | February 5, 2016 01:51 am
दिल्ली IIMC की फाइल फोटो

भारतीय जनसंचार संस्थान (आइआइएमसी) में शुक्रवार को होने वाले वार्षिक दीक्षांत समारोह से पहले गुरुवार को तनाव बना रहा। संस्थान में ‘जातिवादी’ टिप्पणियों के आरोपों को लेकर उसके पूर्व छात्रों के एक वर्ग ने समारोह के बहिष्कार का फैसला किया है। दलितों के खिलाफ फेसबुक पर पोस्ट डालने वाले छात्र ने अधिकारियों को पत्र लिखकर मामले के व्यक्तिगत दुश्मनी से जुड़ा होने का दावा करते हुए कहा कि इसने उसके भविष्य को खतरे में डाल दिया है। उसने आरोप लगाया है कि उसके खिलाफ इस कदम को शिक्षकों का एक वर्ग हवा दे रहा है।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के संचालित संस्थान के परिसर में वर्तमान बैच (2015-16) के कुछ छात्रों ने एक सद्भावना मार्च भी निकाला और संस्थान का नाम खराब ना करने की अपील की। दीक्षांत समारोह में केंद्रीय मंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़ शामिल होंगे। संस्थान के दीक्षांत समारोह का बहिष्कार करने का फैसला करने वाले एक पूर्व छात्र ने कहा कि वह उस परिसर के समारोह का हिस्सा नहीं बन सकता जो एक बहुत गंभीर मामले पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है। इस पूर्व छात्र ने कहा, ‘हम दीक्षांत समारोह के खिलाफ नहीं हैं। हाल की घटनाओं को देखते हुए पत्रकार और सजग नागरिकों के तौर पर हमारा मानना है कि हम दीक्षांत समारोह का हिस्सा नहीं हो सकते’।

सरकार ने संयुक्त सचिव स्तर के एक अधिकारी से अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के छात्रों के खिलाफ कथित रूप से की गई जातिवादी टिप्पणियों के आरोपों की जांच के लिए कहा है। हैदराबाद में दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या को लेकर विरोध प्रदर्शन करने के बाद ये कथित टिप्पणियां की गर्इं। संस्थान ने भी आरोपों की जांच को लेकर एक पांच सदस्यीय समिति का गठन किया है और उससे तीन हफ्ते के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग