December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

समान नागरिक संहिता केवल मुस्लिमों से जुड़ा मुद्दा नहीं, पूर्वोत्तर के लोग भी इसका विरोध करेंगे: ओवैसी

ओवैसी ने आरोप लगाया, ‘भाजपा, वह तो मुस्लिमों को शत्रु के तौर पर दिखाना चाहती है ताकि वह यूसीसी के मुद्दे पर ध्रुवीकरण कर सके।'

Author हैदराबाद | October 27, 2016 16:59 pm
ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असद्दुद्दीन ओवैसी (पीटीआई फाइल फोटो)

एआईएमआईएस के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने जोर देकर कहा है कि समान नागरिक संहिता (यूसीसी) केवल मुस्लिमों से जुड़ा मुद्दा नहीं है बल्कि पूर्वोत्तर के कुछ इलाकों के लोग भी इसका विरोध करेंगे। उन्होंने भाजपा पर देश के बहुतलतावाद और विविधता के तानेबाने को ‘खत्म’ करने का आरोप लगाया। हैदराबाद से लोकसभा सदस्य ओवैसी ने यहां कहा, ‘समान नागरिक संहिता केवल मुस्लिमों से जुड़ा मुद्दा नहीं है। यह एक ऐसा मुद्दा है जिसका पूर्वोत्तर के लोग भी विरोध करेंगे, खासकर नगालैंड और मिजोरम के।’ उन्होंने कहा कि यह एक ऐसा मुद्दा है जो भारत के कई लोगों को चिंता में डाल देगा यह भारत के बहुतलतावाद और विविधता से जुड़ा हुआ है जिसे ‘भाजपा खत्म कर देना चाहती है।’ ओवैसी ने आरोप लगाया, ‘भाजपा, वह तो मुस्लिमों को शत्रु के तौर पर दिखाना चाहती है ताकि वह इस मुद्दे पर ध्रुवीकरण कर सके। यूसीसी के मुद्दे पर लोग उनके खेल को समझ चुके हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हिंदू अविभाजित परिवार का लाभ ईसाइयों और मुस्लिमों को क्यों नहीं दिया गया? केंद्रीय मंत्री एम वैंकया नायडू कहते हैं कि भारत में धर्म के आधार पर कानून नहीं होने चाहिए तो यह हिंदू अविभाजित परिवार, हिंदू विवाह अधिनियम, हिंदू उत्तराधिकार कानून क्या है? ये सब क्या है?’ विवादित यूसीसी मुद्दे पर अपने परामर्श का और विस्तार करते हुए विधि आयोग ने सभी राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों से अपने विचार और योजनाएं साझा करने को कहा था, साथ ही इस विषय पर चर्चा के लिए उनके प्रतिनिधियों को आमंत्रित करने की योजना देने को भी कहा था। इस विषय पर पैनल ने सभी दलों को प्रश्नावली भेजकर 21 नवंबर तक उनसे उनके विचार मांगे हैं। शहरी विकास, सूचना तथा प्रसारण मंत्री वैंकया नायडू ने कहा था कि यूसीसी को पिछले दरवाजे और आम सहमति के बगैर नहीं लाया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 27, 2016 4:59 pm

सबरंग