ताज़ा खबर
 

अब हनीप्रीत का फोन करेगा राम रहीम की ‘साजिश’ का पर्दाफाश, 23 अक्टूबर तक भेजी गई जेल

हनीप्रीत और अपनी साथी सुखदीप कौर के साथ अंबाला जेल मे रहेगी।
राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। (File Photo)

जेल में बंद बलात्कारी बाबा राम रहीम सिंह की मुंहबोली बेटी को अंबाला जिला कोर्ट से भी कोई राहत नहीं मिली है। कोर्ट ने शुक्रवार को हनीप्रीत और उसकी साथी सुखदीप कौर को 23 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया दिया है। हनीप्रीत और सुखदीप अब अंबाला जेल मे रहेंगी। पुलिस ने जिला कोर्ट को बताया कि हनीप्रीत के पास से एक मोबाइल फोन भी बरामद किया है। हालांकि, उसके पास से कोई लेपटॉप नहीं मिला। हनीप्रीत को पहले कोर्ट ने पुलिस रिमांड में भेजा था। लेकिन रिमांड में हनीप्रीत पुलिस का सहयोग नहीं कर रही थी। पुलिस हनीप्रीत का मोबाइल तलाश रही थी। सूत्रों का मानना है कि हनीप्रीत के मोबाइल में डेरा प्रमुख राम रहीम के कई राज छुपे हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि पुलिस ने वह फोन बरामद कर लिया तो उससे कई साजिशों का पर्दाफाश होगा।

राम रहीम को सजा मिलने के बाद हनीप्रीत फरार हो गई थी। उसके बाद पुलिस ने उसे 38 दिनों के बाद गिरफ्तार किया था। पुलिस 38 दिनों तक उसे नेपाल, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में ढूंढ़ रही थी। उसके बाद उसे पंजाब से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के अगले दिन उसे कोर्ट में पेश किया गयां, जहां से उसे 6 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया था। हनीप्रीत पर पंचकूला में हिंसा फैलाने के अलावा कई मामलों के आरोप हैं। रिमांड के दौरान पुलिस ने उससे कई मामलों में पूछताछ की। हालही में रिपोर्ट आई थीं कि हनीप्रीत ने पंचकूला में राम रहीम को बलात्कारी करार दिए जाने वाले दिन हिंसा फैलाने की बात स्वीकार की है।

बता दें, गुरमीत राम रहीम को दोहरे दुष्कर्म मामले में अदालत द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद भड़की हिंसा के संबंध में डेरा सच्चा सौदा अध्यक्ष विपासना इसां शुक्रवार को हरियाणा पुलिस के एक विशेष जांच दल के समक्ष पूछताछ के लिए पेश हुईं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि विपासना सिरसा स्थित डेरा मुख्यालय से शुक्रवार को यहां पहुंची। पंचकूला पुलिस ने पूछताछ के लिए उन्हें तलब किया था।  अधिकारी ने बताया कि वह कल ही यहां आने वाली थीं लेकिन नहीं आ पाईं। इसके बाद सिरसा सिविल अस्पताल के डॉक्टरों की एक टीम कल डेरा मुख्यालय उनकी जांच के लिए भेजी गई, जिन्होंने बताया कि वह यात्रा करने के लिए पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं।  पुलिस ने बताया कि डॉक्टरों की तरफ से सहमति जताने के बाद विपासना को एसआईटी के समक्ष आज पेश होने के लिए तलब किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S.s. Rawat
    Oct 17, 2017 at 10:54 am
    वजीरेआजम मोदी एक मज़बूत सख्शियत का नाम है, लेकिन हरियाणा के खट्टर ने भाजपा को सरेआंम नंगा कर दिया है, आज मीडिया हावी है, न्यायलय अब अपने सबसे बेहतरीन अंदाज़ में आ गए है, क्या मोदी हरियाणा में भाजपा के आतंकवादियों को कटघरे में खड़ा करने की हिम्मत करेंगे ? क्या मोदी खट्टर को भाजपा से उखाड़ फेंकेंगे ? खट्टर ने भारतीय फौजी दस्ते की मदद तो ले ली लेकिन फ़ौज को कहीं विश्वास में लिया गया ? १२०० लीटर ज्वलनशील आग बुझाने की ी में सिरसा से पंचकूला कैसे पहुँच गया ? कहीं इन देशद्रोही खच्चर सरीखे आतंकवादियों की मंशा बहुत बड़े पैमाने पर आतंकवाद फैलाने की थी इसका जवाब हम वजीरेआजम से मांगेंगे
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग