ताज़ा खबर
 

यूपी: गांधी की पुण्‍यतिथि पर हिंदू महासभा का ‘जश्‍न’, बांटी मिठाइयां, ढाेल नगाड़ों के साथ कार्यकर्ताओं ने किया डांस

महासभा ने पिछले साल मेरठ स्‍थ‍ित अपने दफ्तर में गोडसे की प्रतिमा लगाने की योजना बनाई थी। हालांकि, स्‍थानीय प्रशासन के दबाव में उन्‍हें अपनी ये योजना टालनी पड़ी थी।
Author मेरठ | January 30, 2016 21:02 pm
महासभा ने मांग की कि भारत को ‘हिंदू राष्‍ट्र’ घोषित कर देना चाहिए। यह भी कहा कि वे गांधी के हत्‍यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन जारी रखेंगे।

अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने यहां शनिवार को महात्‍मा गांधी की पुण्‍य तिथि पर जश्‍न मनाया। कार्यकर्ताओं ने मिठाइयां बांटी और दफ्तर के सामने ढोल नगाड़ों के बीच बॉलीवुड के गानों पर डांस भी किया। उन्‍होंने मांग की कि भारत को ‘हिंदू राष्‍ट्र’ घोषित कर देना चाहिए। यह भी कहा कि वे गांधी के हत्‍यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन जारी रखेंगे।

महासभा के उपाध्‍यक्ष अशोक शर्मा ने कहा, ”हम इस बात का जश्‍न मना रहे हैं कि गोडसे ने इस दिन गांधीजी की हत्‍या की।” एक अन्‍य मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शर्मा ने यह भी कहा कि वे हर साल जश्‍न मनाते हैं। बैंडवालों को बुलवाते हैं और लोगों को नाचने का निमंत्रण देते हैं ताकि वे गांधीजी की हत्‍या का जश्‍न मना सकें। शर्मा ने मांग की कि देश में गांधीजी के बजाए गोडसे को हीरो घोषित कर देना चाहिए। बता दें कि महासभा ने पिछले साल मेरठ स्‍थ‍ित अपने दफ्तर में गोडसे की प्रतिमा लगाने की योजना बनाई थी। हालांकि, स्‍थानीय प्रशासन के दबाव में उन्‍हें अपनी ये योजना टालनी पड़ी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Ashfaque husain
    Feb 1, 2016 at 1:52 pm
    राष्ट्र पिता जिसको हम सब हिंदुस्तानी कहते हैं फिरभी कुछ लोग पुणे तिथि पर जश्न मानते है.क्या ऐसे लोगों को हिदुस्तानि कहलाने का हक़ है ?
    (0)(1)
    Reply
    1. H
      Harish Nandan
      Feb 2, 2016 at 7:13 am
      यही लोग हिन्‍दुस्‍तानी हैं जो हिन्‍दुस्‍तान को बर्बाद होने से बचा पाये वर्ना आज तो स्थिति/तस्‍वीर ही दुसरी होती फिर भी देशद्रोहियाें का गिरोह बहुत बडा हो गया है इसे खतम करना होगा फिर निर्भिक न्‍यायकर्ता नाथुराम गोडसे गो जनम लेना होगा
      (0)(1)
      Reply
      1. H
        Harish Nandan
        Feb 2, 2016 at 7:10 am
        सच्‍चाई यही है कि कांग्रेस और गांधि विदेशियों एवं विधर्मियों से प्रभावित थे और यह भी एक अच्‍छी बात है कि देश को कमजोर करने के जुर्म में एक देशभक्‍त हिन्‍दुस्‍तानी हिन्‍दु ने उनके गुंडों के गिरोह का परवाह न करते हुए पुरी निर्भिकता और निर्दयता से दुरात्‍मा गांधी को दंडित किया हमें अपने ऐसे निर्भिक देशवासियों पर गर्व है और सच में यही हिन्‍दुस्‍तानी हैं बाकी सब तो पाकिस्‍तानी/ईटालियन/इंगलैंडियन कुत्‍ता भरा है देश में
        (1)(0)
        Reply
        1. R
          Ravindra Kala
          Feb 2, 2016 at 2:32 am
          Ye kaisa pagalpan hi Ek hatyare ka mahimamandan Ye Hindustani nahi ho sakte
          (1)(2)
          Reply
          सबरंग