ताज़ा खबर
 

राम रहीम के डेरे में लाशों का कोई हिसाब नहीं, किए जाते थे अवैध अबॉर्शन

डेरे से एक एके-47 कारतूसों का खाली डिब्बा, गैर-कानूनी पटाखे की फैक्टरी जैसी कई चौकाने वाली चीजें भी बरामद हुई हैं।
Ram Rahim Singh, Dera Sacha Sauda: राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा की बाहर की तस्वीर।

डेरा सच्चा सौदा में तलाशी के दौरान यह पता चला है कि डेरे के अंदर चलने वाले अस्पताल के पास मृतकों से जुड़े पर्याप्त रिकॉर्ड नहीं है। इसके साथ ही यह खुलासा भी हुआ है कि अस्पताल के अंदर बिना लाइसेंस के एक स्किन बैंक चलाया जा रहा था। यह बात डेरे की सैनेटाइजेशन एक्सरसाइज के रविवार को पूरा होने के बाद एक उच्च अधिकारी ने बताई। अधिकारी ने राम रहीम की खुफिया गुफाओं के बारे में भी बताया, जिनमें की एक बालत्कारी बाबा राम रहीम के सुव्यवस्थित निवास स्थान और लड़कियों के हॉस्टल से जुड़ी हुई थी। हरियाणा सरकार के प्रवक्ता सतीश मेहरा के अनुसार तलाशी के दौरान डेरे से एक एके-47 कारतूसों का खाली डिब्बा, गैर-कानूनी पटाखे की फैक्टरी जैसी कई चौकाने वाली चीजें भी बरामद हुई हैं।

इसके साथ ही यह भी पता चला है कि डेरे में अव्यवस्था के साथ एक मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेंसी एक्ट भी चलाया जा रहा था जहां पर किसी भी प्रकार का कानून लागू नहीं हो रहा था। डेरे के अस्पताल में गैरकानूनी तौर पर गर्भपात भी कराया जा रहा था। सतीश मिश्रा ने सिरसा में बताया, “तलाशी अभियान में हजारों की संख्या में सुरक्षामकर्मी और स्थानीय प्रशासन लगा हुआ है। डेरा परिसरों के आसपास कर्फ्यू लगा हुआ है। तलाशी के दौरान परिसर से एक अवैध फैक्टरी का पता चला है। डेरा के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। वहीं डेरा प्रबंधन ने अपने बचाव में अधिकारियों को कहा कि विस्फोटक सामग्रियों से पटाखे बनाए जाते थे।

डेरा परिसरों को खाली कराने के लिए शुक्रवार से ही अभियान शुरू हो गया था। इस दौरान कुछ कंप्यूटर, लग्जरी एसयूवी और कुछ मुद्राएं भी जब्त की गईं। सूत्रों के मुताबिक, तलाशी टीमों को कई जूते भी मिले हैं। डिजाइनर कपड़े, रंग-बिरंगी टोपियां मिलीं। तलाशी अभियान शुक्रवार सुबह कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था और कर्फ्यू के बीच शुरू हुआ। मीडिया को डेरा परिसरों से कुछ दूरी पर रोक दिया गया। अधिकारियों ने सिरसा जिले में 10 सितंबर तक के लिए इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी गईं थी।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग