April 30, 2017

ताज़ा खबर

 

झगड़ा होने पर पत्नी को कुल्हाड़ी से काटा और तीन बच्चों को पानी में डुबोकर खुद कुएं में कूदा

पति को अपनी बीवी पर शक था कि उसके किसी अन्य व्यक्ति के साथ अवैध संबंध है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

हरियाणा में एक शख्स ने पहले तो अपनी बीवी की कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी और इसके बाद भी जब उसकी दरिंदगी नहीं रुकी तो उसने अपने तीनों बच्चों को पानी की टंकी में डुबों को मार डाला। अपने पूरे परिवार को मौत के घाट उतारने के बाद आरोपी ने आत्महत्या करने का प्रयास किया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार नारनौल जिले के शाहबाजपुर गांव निवासी राधेश्याम उर्फ रतिराम को शराब की लत लगी हुई है। उसके परिवार में उसकी बीवी, दो बेटियां और एक बेटा ही थे।

शराब पीने की इस लत के कारण आए दिन उसका अपनी बीवी के साथ झगड़ा होता था। इतना ही नहीं उसे अपनी बीवी पर शक था कि उसके किसी अन्य व्यक्ति के साथ अवैध संबंध है। जिस दिन इस वारदात को अंजाम दिया गया उस रात भी रतिराम शराब पीकर घर आया था जिसके बाद दोनों पति-पत्नी में काफी झगड़ा हुआ। इसके बाद गुस्से में आए रतिराम ने कुल्हाड़ी लाकर अपनी पत्नी के सिर पर वार कर दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पत्नी की हत्या करने के बाद आरोपी ने सुबह-सुबह उसकी लाश को जला दिया।

इस वारदात को अंजाम देने के बाद भी जब उसे चैन नहीं मिला तो उसने अपने तीनों बच्चे 8 वर्षीय खुशी, 6 साल की तमन्ना और 2 साल के नैतिक की पानी की टंकी में डुबाकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने कुएं में कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की लेकिन उसे बचा लिया गया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सारे शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए जिला अस्पताल में भेज दिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ 4 हत्याएं करने और आत्महत्या की कोशिश करने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।

देखिए वीडियो - मारुति फैक्ट्री हिंसा: हरियाणा कोर्ट ने 31 आरोपियों को दोषी करार दिया, 117 बरी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 24, 2017 12:04 pm

  1. No Comments.

सबरंग