ताज़ा खबर
 

जानिए कौन है विकास बराला का साथी आशीष, दो बार गिरफ्तार होने पर भी मां को नहीं थी खबर

चंडीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी की बेटी वर्णिका कुंडू से छेड़छाड़ के मुख्य आरोपी विकास बराला के दोस्त और सह-आरोपी आशीष कुमार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है।
छेड़खानी के आरोप में दो गिरफ्तार हो चुके आशीष कुमार की मां का कहना है कि उन्हें बेटे की गिरफ्तारी खबर नहीं। (फोटो सोर्स फेसबुक)

चंडीगढ़ में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी की बेटी वर्णिका कुंडू से छेड़छाड़ के मुख्य आरोपी विकास बराला के दोस्त और सह-आरोपी आशीष कुमार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल छेड़छाड़ के आरोप में दो बार गिरफ्तार हो चुके आशीष कुमार की मां ने बताया कि बेटा दो बार गिरफ्तार हो चुका है, उन्हें इसकी जानकारी नहीं थी। आशीष की मां ने बताया, ‘उन्हें बताया गया है कि वह कहीं बाहर गया है। जल्द लौट आएगा।’ गौरतलब है कि आशीष कुमार हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला का दोस्त है जो, वर्णिका कुंडू से छेड़छाड़ और उनकी कार का पीछा करते वक्त कार में ही था। खबर के अनुसार आशीष कुमार भिवानी के बरसी जातेन गांव का रहने वाला है। ये इलाका चंडीगढ़ से करीब 250 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। बताया जाता है कि आशीष का परिवार खेती किसानी करता है। पिता की तान साल पहले ही मौत हो चुकी है। मां भी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं। आशीष के एक पड़ोसी ने बताया कि वह कुछ दिन पहले स्टॉक मार्केट में बड़ी रकम गंवा चुका है। इस कारण करीब पांच एकड़ जमीन तक बेचनी पड़ गई।

आशीष हिसार के किसी कॉलेज से लॉ ग्रेजुएट है। जो किसी अच्छी नौकरी की तलाश में था। वह सरकारी नौकरी की परीक्षा भी दे चुका है। आशीष के पड़ोसी मनमोहन के अनुसार, लॉ कॉलेज में आशीष में मेरी दोस्ती हुई। चंडीगढ़ घटना से पहले उसने मुझे फोन किया। विकास बराला उसे चंड़ीगढ़ ले ले जा रहा है। उसने बताया कि वो विकास की तरफ बनना चाहता है। इसके एक दिन बाद हमें न्यूज पेपर के जरिए पता चला की वो अपने दोस्त के साथ गिरफ्तार हो चुका है। बाद मैं मैंने उससे बात की तो उसने मुझे बताया कि जमानत मिल गई है। लेकिन उसने चिंता भी जताई कि जिस तरह से लोग उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं उससे उनकी दोबारा गिरफ्तारी हो सकती है।

मनमोहन के अनुसार जहां विकास बराला के पिता सुभाष बराला को बचाने की हर मुमकिन कोशिश कर रहे थे वहीं आशीष के परिवार ने तबतक वकील भी हायर नहीं किया था। हालांकि जब मनमोहन से पूछा गया कि तब क्या होगा जब राजनीतिक परिवार से होने की वजह से विकास बराला को बचाने के लिए सारे आरोप आशीष पर लगाए जा सकते हैं। मनमोहन ने कहा कि उन्हें विकास और उनके परिवार पर पूरा भरोसा है। वो ऐसा कुछ नहीं करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग