ताज़ा खबर
 

दलितों को जीतते देख नहीं पाई यादवों की टीम, देसी कट्टा दिखाकर धमकाया, फिर ‘अखाड़ा’ बन गया फ्रेंडली कबड्डी मैच

गुड़गांव में एक कबड्डी मैच के दौरान दलित और एक दूसरी जाति के लोगों के बीच हिंसक झड़प हो गई। इस लड़ाई में 10 लोग जख्मी हो गए हैं। ज्यादातर लोगों के गंभीर चोटें लगी हैं।
गुड़गांव में एक कबड्डी मैच के दौरान दलित और यादवों के बीच लड़ाई हो गई। Express photo

गुड़गांव में एक कबड्डी मैच के दौरान दलित और एक दूसरी जाति के लोगों के बीच हिंसक झड़प हो गई। इस लड़ाई में 10 लोग जख्मी हो गए हैं। ज्यादातर लोगों के गंभीर चोटें लगी हैं। दरअसल, गुड़गांव के सेक्टर 29 में अंतर जातीय लोगों के बीच एकता बनाने के लिए कबड्डी सीरीज करवाई गई थी। इसमें आसपास के कई गावों से दलित, यादव, गुर्जर, बनिया, अग्रवाल के साथ-साथ और भी कई लोगों की टीमें आई थीं। लेकिन यादव और दलितों के बीच हुआ मैच अचानक हिंसक घटना में बदल गया। मिली जानकारी के मुताबिक, दलितों की टीम को जीतता देख यादवों की टीम चिढ़ गई थी। ऐसे में उन्होंने दलितों को देसी कट्टों से डराना शुरू कर दिया। इसके साथ ही यादवों पर आरोप है कि उन्होंने दलितों के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल भी किया था। इसके बाद लड़ाई शुरू हो गई थी। इस लड़ाई में योगेंद्र नाम के एक लड़के के हाथ में फ्रेक्चर हो गया वहीं विजेंद्र नाम के लड़के का सिर फट गया है। सभी को गुड़गांव के संजीवनी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है।

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में दलितों ने बताया कि यादवों की टीम सिकंदरपुर से आई थी। लेकिन जिस गांव में मैच हो रहा था वहां के यादव भी उन्हें (यादव) ही सपोर्ट कर रहे थे। ऐसे में गांव के यादवों ने भी उन्हें(दलित) धमकाया था।

फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है। सेक्टर 29 के थाने में धारा 147 (दंगा करने), 323(जानबूझकर हानि पहुंचाना), 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। इसके साथ ही SC/ST Act की धाराएं भी लगाई गई हैं।

Read Also: दलित उत्पीड़न को राजनीतिक रंग देना ग़लत, नरेन्द्र मोदी पिछड़े वर्ग के मसीहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग