ताज़ा खबर
 

सामने आई हनीप्रीत की सहेली, बाबा के बारे में किए चौकाने वाले खुलासे

महिला ने कहा कि बाबा की खुद की अपनी दो बेटियां थीं, लेकिन वो दो बेटियां कभी भी बाबाजी के पास न रहती थीं न उनके साथ चलती थीं।
बलात्कारी बाबा राम रहीम सिंह के साथ उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम जेल में है। बाबा की मुहंबोली बेटी हनीप्रीत फरार है। पुलिस लगातार उसकी तलाश कर रही है। हनीप्रीत पर बाबा की रखैल तक होने का आरोप लग चुका है। हनीप्रीत की सहेली होने का दावा करने वाली एक महिला से जब आज तक के रिपोर्टर ने पूछा कि क्या आपने कभी इन्हें किसी गलत हालत में अवस्था में देखा है। इस पर महिला ने कहा कि बाबा की खुद की अपनी दो बेटियां थीं, लेकिन वो दो बेटियां कभी भी बाबाजी के पास न रहती थीं न उनके साथ चलती थीं। बाबाजी गाड़ियों में बाहर जाते थे तो हनीप्रीत साथ रहती थी। सारा काम हनीप्रीत देखती थी। जब सहेली से पूछा गया कि फिल्मों में बाबाजी हनीप्रीत को लेकर आए या फिर हनीप्रीत बाबाजी को फिल्मों में लेकर आई। तो सहेली ने कहा कि हनीप्रीत पूरे डेरे पर कब्जा जमाए हुए थी, बाबा को फिल्मों में लेकर आई।

गौरतलब है कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की दत्तक पुत्री प्रियंका तनेजा उर्फ ​​हनीप्रीत फरार हैं, हरियाणा पुलिस के सूत्रों के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली है कि वह शायद नेपाल भाग गई है। हरियाणा पुलिस की टीम ने डेरा सच्चा सौदा उदयपुर के इंचार्ज को राजस्थान से हिरासत में ले लिया है। पुलिस सूत्रों का दावा है कि इंचार्ज ने हनीप्रीत की लोकेशन की जानकारी दी है, इससे पता चला है कि वह नेपाल में है। प्रदीप, जिसे शनिवार को सेक्टर 17 नागोदा नगर उदयपुर से हरियाणा पुलिस ने पकड़ा था, अब उसे पंचकुला भेज दिया गया है। जिस दिन सीबीआई अदालत ने दो बलात्कार के मामलों में बाबा राम रहीम को दोषी ठहराया था।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक प्रदीप को उस दिन पंचकूला में भीड़ इकट्ठा करने का निर्देश दिया गया था। प्रदीप ने बताया कि गुरमीत राम रहीम ने हर व्यक्ति को 25,000 रुपये देने का वादा किया था। हालांकि हरियाणा पुलिस के डीजीपी बीएस संधू ने न्यूज 18 इंडिया को बताया कि उनके पास हनीप्रीत की लोकेशन के बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं है। अभी हनीप्रीत की तलाश जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.