ताज़ा खबर
 

बलात्कारी राम रहीम के डेरे में होती थीं पूल पार्टी, केवल लड़कियों को आने की थी इजाजत

राम रहीम की विला पार्टी के लिए महिलाओं को 25 हजार रुपए तक देने होते थे और अगर वे अपने साथ किसी अन्य महिला को लेकर आती तो यह रकम दोगुनी हो जाती यानि की 50 हजार रुपए।
डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख बाबा राम रहीम

दो साध्वियों के बलात्कार के मामने में बीस साल की सजा काट रहा बाबा गुरमीत राम रहीम एक बहुत ही अय्याश किस्म का व्यक्ति था ऐसा उसके डेरा प्रमियों ने खुलासा किया है। राम रहीम के डेरे में पूल पार्टियों का आयोजन किया जाता था जिसमें केवल लड़कियों और महिलाओं को ही एंट्री दी जाती थी। एबीवीपी के अनुसार यह खुलासा कॉलेज की एक लड़की के व्हाट्सऐप मैसेज के जरिए हुआ है। पूर्व डेरा प्रेमी गुरदास सिंह और व अन्य व्यक्ति कौरा ने भी इन पूल पार्टियों का खुसाला किया। गुरदास सिंह ने बताया कि कॉलेज की एक पूर्व छात्रा ने उसे इन पूल पार्टीयों के खुलासे वाले व्हाट्सऐप मैसेज को भेजा था। उस लड़की ने गुरदास को बताया कि डेरे के अंदर होने वाली इस पूल पार्टी में पूर्व छात्राएं भी हिस्सा लेती थीं।

इन संदेशों में पार्टी का समय और किन लोगों को आने की अनुमति है इसका जिक्र किया गया है। एक मैसेज में पार्टी में आने वाली लड़की पूछती है कि क्या अपने पति को ला सकती हूं, लेकिन उससे मना कर दिया जाता है और कहा जाता है कि केवल अपनी मां और भाभी को ला सकती हैं यानि कि पुरुषों को पार्टी में आने की अनुमति नहीं होती। राम रहीम की विला पार्टी के लिए महिलाओं को 25 हजार रुपए तक देने होते थे और अगर वे अपने साथ किसी अन्य महिला को लेकर आती तो यह रकम दोगुनी हो जाती यानि की 50 हजार रुपए। इस बातचीत में यह भी खुलासा हुआ है कि पूल पार्टी में बाहरी महिलाओं को आने की अनुमति नहीं थी।

इस पार्टी में केवल वहीं लड़कियां या महिलाएं आ सकती थीं जो कि डेरे से जुड़ी थीं क्योंकि व्हाट्सऐप पर हुए राम रहीम की पार्टी के खुलासे में पार्टी में आने वाली लड़की से अपना पुराना कॉलेज कार्ड लाने की बात कही जा रही है। वहीं कौरा ने बताया कि राम रहीम की गुफा और हॉटल में पूल पार्टी की जाती थी जो कि रात-रात भर चलती थी। इन पार्टियों में विदेशों से भी लड़कियां आती थीं। हॉटल की पार्टी के लिए 12,500 रुपए देने होते थे और राम रहीम के साथ विला में पार्टी करने के लिए 25 हजार रुपए देने होते थे। इतना ही नहीं रात को वापस अपने घर जाने की अनुमति भी नहीं होती थी लड़कियों को वहीं रुकना होता था।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.