ताज़ा खबर
 

तेज हवा से फटा गुजरात का सबसे ऊंचा तिरंगा, दर्जी को बुला ऑन द स्पॉट सिलवाया

इस तिरंगे को 46 लाख रुपए की लागत से बनाया गया है।
Author बड़ोदरा | September 1, 2017 16:34 pm
इसे हाल ही में 15 अगस्त के लिए तैयार किया गया था।

गुजरात का सबसे ऊंचा राष्ट्रीय तिरंगा तेज हवा के कारण फट चुका है। यह झंडा बड़ोदरा के सामा तालाव में स्थित है। इसे हाल ही में 15 अगस्त के लिए तैयार किया गया था। इस तिरंगे के फट जाने से स्थानीय लोगों को काफी दुख पहुंचा, जिसके बाद उन्होंने इसकी मरम्मत के लिए एक दर्जी को बुला डाला। कई लोगों ने इस तिरंगे को फिर से ठीक करते हुए दर्जी और जो लोग इसको ठीक करने में अपना सहयोग दे रहे हैं उनकी वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर की है। इन वीडियो आप साफ देख सकते हैं कि कैसे कुछ लोग तिरंगे को नीचे खींच रहे हैं और फिर दर्जी उसको ठीक करने का काम कर रहा है।

इन वीडियो को काफी शेयर की जा रहा है लोग अपने तिरंगे को ठीक करने वाले लोगों की काफी सराहना कर रहे हैं। आपको बता दें कि यह गुजरात का सबसे लंबा तिरंगा है जिसे स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार फहराया गया था। इस तिरंगे का उद्घाटन सूबे के मुख्यमंत्री विजय रूपानी द्वारा किया गया था। इस तिरंगे को 46 लाख रुपए की लागत से बनाया गया है। नगरपालिका के कमीश्नर डॉक्टर विनोद राय के अनुसार इस तिरंगे झंडे के पोल की लम्बाई 62 मीटर है लेकिन जब इसमें तीन रंगों के झंडे को बांधा जाएगा तो इसकी लम्बाई 72 फीट होगी।

इससे पहले गुजरात में सबसे लंबा झंडा कछ के मुंद्रा में स्थित था, जिसकी लम्बाई 60 मीटर है। इस झंडे को हार्नी एयरपोर्ट से भी आसानी से देखा जा सकता है। इस झंडे को देखने का नजारा जो रात में होता है क्योंकि जब रात में इसके चारों तरफ लाइट जलती हैं तो इसे देखने का नजारा ही बेहद आकर्षित होता है। इस तिरंगे की खूबसूरती को बनाए रखने के लिए रोजाना सुबह-सुबह और शाम ढलते ही इस पर लाइट डाली जाती है ताकि इसकी सुंदरता यूहीं कायम रहे।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.