ताज़ा खबर
 

भावनगर में पीएम मोदी ने किया ड्रीम प्रोजेक्ट ‘रो-रो’ का लोकार्पण, जानिए- गुजरातियों के लिए क्यों अहम है यह परियोजना

यह फेरी सर्विस भावनगर जिले के घोघा से भरुच जिले के दाहेज के बीच खंभात की खाड़ी में शुरू की गई है।
भावनगर पहुंचने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का स्वागत किया गया। (फोटो- ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक महीने में तीसरी बार आज (रविवार, 22 अक्टूबर) अपने गृह राज्य गुजरात पहुंचे हैं। माना जा रहा है कि चुनाव की तारीखों का एलान होने से पहले यह उनका आखिरी गुजरात दौरा है। दिसंबर में यहां चुनाव होने हैं। उससे पहले पीएम ने आज भावनगर में 650 करोड़ रुपये की लागत से बनी रो-रो (रोल ऑन, रोल ऑफ) फेरी सर्विस परियोजना का लोकार्पण किया। यह फेरी सर्विस भावनगर जिले के घोघा से भरुच जिले के दाहेज के बीच खंभात की खाड़ी में शुरू की गई है। लोकार्पण समारोह के बाद पीएम ने घोघा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए लोगों को बताया कि इस सर्विस से गुजरात के करोड़ों लोगों की जिंदगी आसान होगी। पीएम इसके बाद रो-रो फेरी सर्विस से घोघा से दाहेज तक की यात्रा करेंगे। वहां से फिर पीएम बड़ोदरा के लिए रवाना होंगे, जहां कई विकास योजनाओं की शुरुआत करेंगे।

पीएम ने गुजरात दौरे से पहले ही इस फेरी सर्विस के बारे में एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया है। उसके साथ उन्होंने लिखा है, “घोघा-दाहेज फेरी सर्विस गुजरात में यातायात और आधारभूत संरचना को मजबूत करेगा।”

बता दें कि सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के बीच मौजूदा समय में सड़क से यात्रा करने में 8 से 10 घंटे का समय लगता है। इस फेरी सर्विस के शुरू होने से अब लोग एक घंटे से भी कम समय में यात्रा पूरी कर सकेंगे। परियोजना के पहले चरण में यह सर्विस यात्रियों के लिए सुरू की गई है। दूसरे चरण में इस सर्विस से गाड़ियों और सामानों को ले जाया जाएगा। नरेंद्र मोदी जब राज्य के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने साल 2012 में इस परियोजना की नांव रखी थी। यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है।

इससे पहले जो व्यापारी भावनगर, अमरोली से सूरत की तरफ व्यापार करने जाते हैं उन्हें लंबी दूरी की यात्रा तय करनी पड़ती थी। इसके अलावा उन्हें कई कठिनाइयां होती थीं। इसी समस्या को देखते हुए पीएम मोदी की सोच थी कि जलमार्ग से एक ऐसी बोट सर्विस की शुरुआत की जाय जो व्यापारियों की परेशानी कम कर दे। फिलहाल इस नई फेरी सर्विस से करीब 500 लोग एक साथ यात्रा कर सकेंगे। बाद में इसमें 100 बड़े वाहनों की ढुलाई का भी प्रावधान किया जाना है। फिलहाल एक दिन में 2 से 3 बार यह सर्विस उपलब्ध होगी। बाद में इसमें इजाफा किया जाएगा। फस सर्विस के लिए प्रति व्यक्ति 600 रुपये किराया तय किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. J
    jameel shafakhana
    Oct 22, 2017 at 1:18 pm
    DHAAT,SWAPANDOSH, SEXTIME, SEXPOWER, NAMARDI OR NILL SHUKRANUO KA SAFAL ILAJ : jameelshafakhana /
    (0)(0)
    Reply