December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

गुजरात: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां नोट बदलने के लिए बैंक पहुंचीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन मोदी अहमदाबाद में नोट बदलने के लिए बैंक पहुंचीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन मोदी बैंक जाती हुईं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीरा बा गुजरात के गांधीनगर में नोट बदलने के लिए बैंक पहुंचीं। वह बैंक में 4500 रुपए लेकर पहुंची थीं। हीरा बा गांधीनगर के ओरियेंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की रायसेन शाखा पहुंची थीं। वहां कर्मचारियों ने उन्हें  10 रुपए के नोटों की दो गड्डियां दीं। इसके अलावा उन्हें एक 500 रुपए का और एक 2000 रुपए का नोट भी मिला। हीरा बा को कुछ लोग सहारा देकर बैंक के अंदर लेकर आए थे क्योंकि उनकी उम्र काफी ज्यादा है। वह ज्यादा देर खड़ा भी नहीं रह सकतीं। हीरा बा 96 साल की हैं। वह काफी समय से नरेंद्र मोदी से अलग ही रहती हैं। मोदी जब मुख्यमंत्री थे तब अक्सर उनसे मिलने जाया करते थे। मई 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद एक बार उन्होंने मां को दिल्ली भी बुलाया था। सात, रेसकोर्स में कुछ दिन रहने के बाद वह वापस गुजरात चली गई थीं।

अभी हाल में अपने जन्मदिन पर नरेंद्र मोदी मां का आशीर्वाद लेने गए थे। हीरा बा को मई 2016 में वाराणसी में नारी जागरण सम्‍मान से नवाजा गया था। यह सम्‍मान नारी जागरण मैगजीन की ओर से दिया गया। नरेंद्र मोदी के बड़े भाई सोमाभाई दामोदार दास मोदी ने अपनी मां की ओर से यह सम्‍मान लिया था। उसी वक्त वह  7-आरसीआर पहुंची थीं। पीएम मोदी ने खुद व्हील चेयर पर बैठाकर उन्हें अपने सरकारी आवास की सैर कराई थी। इसकी तस्वीरें शेयर करते हुए मोदी ने लिखा था, ‘मेरी मां गुजरात लौट गईं। काफी लंबे समय के बाद उनके साथ अच्छा वक्त बिताया और वह भी उनके पहली बार आरसीआर आने पर।’

मां हीरा बा के साथ पीएम मोदी। मां हीरा बा के साथ पीएम मोदी।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी नोट बदलने के लिए दिल्ली के एक बैंक में पहुंचे थे। राहुल गांधी गुरुवार को अपने चार हजार रुपए बदलने दिल्ली के संसद मार्ग स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच पहुंचे थे। वहां राहुल गांधी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मीडिया और मोदी को समझ में नहीं आएगा कि आम लोगों को कितनी दिक्कत हो रही है। राहुल ने कहा था, ’15-20 लोगों के लिए सरकार नहीं चलनी चाहिए। सरकार आमजन के लिए चलनी चाहिए। परेशानी आमजन को हो रही है। ये घंटों से खड़े हैं। मैं यहां अपने 4000 रुपए के पुराने नोट बदलने आया हूं। यहां पर लगी लंबी लाइन को अंदर कर दिया गया। मैं लाइन में खड़ा होना चाहता हूं। ना मीडिया को और ना ही पीएम मोदी को समझ में आएगा कि लोगों को कितनी दिक्कत हो रही है। मेरे लोगों को दर्द हो रहा है। मैं उनके दर्द के लिए यहां लाइन में खड़ा हूं।’ राहुल के इस कदम की भाजपा नेताओं ने आलोचना की थी। नेताओं ने इसे दिखावा और राजनीति करार दिया था। इसके लिए राहुल की ट्विटर पर भी खिल्ली उड़ाई गई थी।

वीडियो: बैंक पहुंची प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां; 4500 रुपए के नोट बदलवाए

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 15, 2016 12:01 pm

सबरंग