ताज़ा खबर
 

अमेरिकियों के संग ठगी के आरोपी ने गर्लफ्रेंड के बर्डे पर गिफ्ट की थी 2.5 करोड़ की कार

इस सिलसिले में पुलिस ने चार हवाला कारोबारियों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ किया है। ये हवाला कारोबारी अहमदाबाद से मुंबई में मनी लॉन्ड्रिंग करते हैं।
Author अहमदाबाद | October 14, 2016 11:13 am
मुंबई के मीरा रोड स्थित कॉल सेंटर से एक्सटॉर्शन मनी इकठ्ठा करने वाले गिरोह के सात लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

मुंबई और अहमदाबाद में कॉल सेंटर्स में एक्स्टॉर्शन रैकेट चलाने वाले सागर ठक्कर उर्फ शैगी ने सैकड़ों अमेरिकियों को चूना लगा अपनी गर्लफ्रेंड के जन्मदिन पर उसे ऑडीआर-8 कार तोहफे में दी थी। मामले में तहकीकात कर रही थाने पुलिस ने बताया कि इस लक्जरी कार की कीमत करीब ढाई करोड़ रुपये है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सागर ठक्कर के पास कई लग्जरी कारें हैं और उसने अपनी गर्लफ्रेंड को जो आॅडी कार गिफ्ट किया था उसे अहमदाबाद शोरूम से खरीदा गया था। पुलिस ने बताया कि सागर की गर्लफ्रेंड के बारे में अभी कुछ जानकारी नहीं मिल पायी है और आॅडी कार जब्त करने के लिए पुलिस उसकी छानबीन कर रही है। पुलिस को यह जानकारी सागर के स्कूल फ्रेंड्स से मिली है, जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

वीडियो: जनसत्ता स्पीड न्यूज-देश दुनिया की खबरों से आपको रखे अपडेट

पुलिस को सागर के दोस्तों से पूछताछ में पता चला कि सागर अहमदाबाद आने के बाद अपनी बहन रीमा के साथ रहने लगा, वह उस समय खाली बैठा था। यहीं पर सागर अमेरिका में बैठे कॉल सेंटर एक्सटॉर्शन गिरोह के मास्टरमाइंड के सम्पर्क में आया। सागर को यूएसए में बैठे गिरोह के अन्य सदस्यों से महत्वपूर्ण डाटा और अन्य सहायता मुहैया कराई जाती थी। सूत्रों के हवाले से यह भी पता चला है कि सागर ठक्कर का दुबई में अपना बड़ा बिजनेस भी है, जो उसने एक्सटॉर्शन रैकेट से मिले पैसों से शुरू किया है।

इस मामले में जांच के लिए अमेरिकी जांच एजेंसी एफबीआई के सात अधिकारी शुक्रवार को थाने कमिश्नरेट आएंगे। थाने के कमिश्नर आॅफ पुलिस परमबीर सिंह ने कहा कि इस रैकट के भंडाफोड़ में हम अमेरिकी अधिकारियों का जांच में पूरा सहयोग करेंगे और सभी जरूरी डिटेल्स मुहैया कराएंगे। इस सिलसिले में पुलिस ने चार हवाला कारोबारियों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ किया है। ये हवाला कारोबारी अहमदाबाद से मुंबई में मनी लॉन्ड्रिंग करते हैं। गौरतलब है कि अहमदाबाद पुलिस ने पिछले तीन सालों में शहर में चल रहे कई कॉल सेंटर्स के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं और उनमें छापेमारी भी की है।

Read Also: महाराष्ट्र: ठाणे कॉल सेंटर गिरोह ने ली एक अमेरिकी महिला की जान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग