ताज़ा खबर
 

लड़की को मारने वाले तेंदुए को गांववालों ने पिंजड़े में जिंदा जलाया

गुजरात के सूरत जिले के वाडी गांव में लोगों ने तेंदुए को बंद पिंजड़े में जिंदा जला दिया। यह मामला गुरुवार रात का बताया जा रहा है।
Author सूरत | November 5, 2016 11:27 am
तेंदुए की हत्या करके जलाया। (File Photo)

गुजरात के सूरत जिले के वाडी गांव में लोगों ने तेंदुए को बंद पिंजड़े में जिंदा जला दिया। यह मामला गुरुवार रात का बताया जा रहा है। घटना से एक दिन पहले तेंदुए ने एक सात साल की बच्ची पर हमला कर दिया था, जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी। वन विभाग ने पशु संरक्षण कानून का उल्लंघन करने के आरोप में गांववालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। वाडी राज्य के वन एवं पर्यटन मंत्री गनपत वसावा का मूल गांव है। बुधवार सुबह तेंदुए द्वारा बच्ची को मारे जाने के बाद वन विभाग ने अलग-अलग जगहों पर तेंदुए को पकड़ने के लिए 5 पिंजड़े लगाए थे।

वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक गुरुवार की रात तेदुआ एक पिंजड़े में कैद हो गया। यह बात गांव में फेल गई। इसके बाद तेंदुए को मारने के लिए लोग इकट्ठा हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों और वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक आक्रोशित गांववालों ने वन कर्मचारियों से पिंजड़े छीन लिया और बंद तेंदुए पर मिट्टी का तेल छिड़कर उसे जिंदा जला दिया। इसके बाद गांववालों ने तेंदुए को पिंजड़े से बाहर निकाला और उसे एक बार फिर आग के हवाले कर दिया। जब तक वन विभाग की पूरी टीम मौका-ए-वारदात पर पहुंची तब तक तेंदुए की मौत हो गई थी।

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

जिला वन अधिकारी जेएच राठौड़ ने बताया कि तेंदुए को जिंदा जलाकर कर सैकड़ों गांववालों ने कानून को अपने हाथ में लिया है। हमने अज्ञात लोगों के खिलाफ पशु संरक्षण अधिनियम की धारा 9 के तहत केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में विशेष जांच दल जांच कर रहा है। हमने मृतक लड़की निकिता वसावा के परिवारवालों को चार लाख के मुआवजे का चेक सौंप दिया है।

बुधवार को निकिता दो अन्य लड़कियों के साथ शौच के लिए घर के पीछे जा रही थी। जब झाड़ियों में छिपे तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। तेंदुए लड़की को गर्दन से पकड़कर पास के खेत में ले गया। यह पिछले 15 दिनों में तेंदुए द्वारा नाबालिग लड़की पर किया गया दूसरा हमला था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.