ताज़ा खबर
 

गुजरात: हेरोइन से लदा जहाज पकड़ा, 1500 किलो की खेप बरामद

पनामा से भारत लाए जा रहे एक व्यापारिक जहाज से नशीले पदार्थों की अब तक की सबसे बड़ी खेप पकड़ी गई है।
Author नई दिल्ली | July 31, 2017 01:43 am
ड्रग्स। (file picture)

तोड़कर स्क्रैप में बेचने के लिए पनामा से भारत लाए जा रहे एक व्यापारिक जहाज से नशीले पदार्थों की अब तक की सबसे बड़ी खेप पकड़ी गई है। गुजरात तट के पास अरब सागर में भारतीय तटरक्षक बल ने देश की अब तक की सबसे बड़ी ड्रग्स की खेप पकड़ने का दावा किया है। तटरक्षक बल के मुताबिक, पकड़ी गई 1500 किलो हेरोइन के खेप की कीमत कम से कम साढ़े तीन हजार (3500) करोड़ रुपए आंकी गई है। पकड़ा गया जहाज ‘एमवी हेनरी’ पनामा में पंजीकृत है। इस बरामदगी को लेकर रक्षा मंत्रालय, नौसेना, खुफिया ब्यूरो (आईबी) समेत तमाम केंद्रीय एजंसियां चौकस हो गई हैं। इन सभी एजंसियों की संयुक्त जांच टीम- ‘पोरबंदर विशेष समूह’ गठित की गई है। पनामा से चला यह जहाज ईरान और कराची होते हुए गुजरात के पोरबंदर आ रहा था। बड़े अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र की आशंका के बिंदु से भी इस मामले में जांच की जा रही है। जहाज के कप्तान समेत कुल आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले में गिरफ्तारियों की संभावना जताई जा रही है। शीर्षस्थ एजंसी एनटीआरओ ने नशीले पदार्थों की इस खेप के बारे में तमाम एजंसियों को अलर्ट किया था।

भारतीय तटरक्षक बल के महानिदेशक राजेंद्र सिंह के अनुसार, यह जहाज ईरान से आ रहा था। लगता है कि वहीं से हेरोइन की खेप जहाज में छुपाई गई थी। हेरोइन को अलग-अलग पॉकेट में लपेटकर जहाज की पाइपों और टंकियों में छिपाकर रखा गया था। जहाज को पकड़ने वाला तटरक्षक बल का दल उसे गुजरात के पोरबंदर लेकर आया। जहाज के पकड़े गए कर्मचारियों से कोस्टगार्ड के अलावा नौसेना, आइबी, गुजरात पुलिस और कस्टम विभाग के अधिकारी बाकी पेज 8 पर पूछताछ कर रहे हैं। यह जहाज ईरान से आते हुए कराची बंदरगाह पर भी रुका था। इस जहाज का कप्तान और सभी कर्मचारी भारतीय मूल के नागरिक हैं। तटरक्षक बल के महानिदेशक के अनुसार, खुफिया एजंसियों की सूचना पर कोस्टगार्ड ने अरब सागर में शनिवार को अपने एक जहाज ‘आइसीजी समुद्र पावक’ और हेलिकॉप्टरों को भेजा था। कोस्टगार्ड ने इस कार्रवाई का वीडियो भी जारी किया है। जहाज को 29 जुलाई को 12 बजे पकड़ा गया। अधिकारियों के मुताबिक, इस जहाज को गुजरात के एक ‘ब्रेकिंग-यार्ड’ लाया जा रहा था। योजना थी कि वहां पर इसे तोड़ने के बहाने छिपाई गई हेरोइन को धीरे- धीरे निकाल कर देश के अलग-अलग हिस्सों में भेज दिया जाए।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग