ताज़ा खबर
 

महिला ने फेसबुक पर की दोस्ती, व्यापारी से 1.20 करोड़ ठगे

फेसबुक पर विदेशी महिला से भागलपुर के बड़े व्यापारी विनय कुमार सिंघानिया को दोस्ती करना काफी महंगी साबित हुआ। महिला के झांसे में व्यापारी ने एक करोड़ 20 लाख रुपए महिला के खाते में ट्रांसफर कर दिए और अब वह ठगा सा महसूस कर रहा है।
सांकेतिक फोटो

फेसबुक पर विदेशी महिला से भागलपुर के बड़े व्यापारी विनय कुमार सिंघानिया को दोस्ती करना काफी महंगी साबित हुआ। महिला के झांसे में व्यापारी ने एक करोड़ 20 लाख रुपए महिला के खाते में ट्रांसफर कर दिए और अब वह ठगा सा महसूस कर रहा है। पुलिस में दर्ज रपट के अनुसार लिसा ओवेन, डा. किन वाल्स, मिस्टर ब्राउन, मुंबई के अदिति शर्मा, पटेल कुमार और जोधि काले नामजद हैं। इन सब पर धोखाधड़ी और ठगी का आरोप है।

विनय कुमार सिंघानिया ने पुलिस में पूरी जानकारी के साथ बाकायदा लिखित दरखास्त देकर शिकायत की है। इसके मुताबिक सिंघानिया की बीते साल दिसंबर में लिसा ओवेन से आभासी दोस्ती ( फेसबुक फ्रेंड ) हुई। उसने खुद को लंदन के हरफोर्ड थर्टी कैमुुल स्ट्रीट हेल्थ प्रो फर्मेशयुटिक्ल कंपनी का स्टाफ बताया। बातों बातों में उसने व्यापार का आॅफर दिया। बताया कि कंपनी को एक्वा श्लोटाइज हर्बल की आवश्यकता होती है जो भारत में सस्ता व सुुुलभ है। भारत में इसके सौ ग्राम की कीमत 258400 रुपए है। हालांकि लंदन में 65000 यूएस डालर है जिसका भारतीय मूल्य 442615 रुपए होता है। उसने मुंबई के अदिति शर्मा, पटेल कुमार और डा. किन वाल्स से इस मुताल्लिकबात करने को कहा। उसने उनके मोबाइल नंबर दिए। व्यापारी सिंघानिया को धंधे में तकरीबन दुगुना फायदा नजर आया।

इसी लालच में फंस कर इसी साल जनवरी से अब तक किश्तों में आरटीजीएस के जरिए एक करोड़ 20 लाख करीब रुपए अपने खातों से उनके बताए बैंक खातों में ट्रांसफर करा दिए। ये सभी बैंक खाते अलग-अलग नामों और कई बैंकों के हैं जो कोलकाता, गोवा, गोरखपुर, दिल्ली, मुंबई, उड़ीसा के राउरकेला आदि से जुड़े हैं जिन खातों में भागलपुर की आइडीबीआइ बैंक से किश्तों में रुपए भेजे गए। उनके नाम हैं : शर्मा ट्रेडिंग कंपनी (कोलकाता), प्रकांत जायसवाल (गोरखपुर), वनुुलाल डीका (गोवा), साना इंटरप्राइजेज (मुंबई), रेहान अली (राउरकेला) हैं। जाहिर है, यह देश में ठगी करने वाला बड़ा गिरोह है और इसका दायरा देश ही नहीं विदेश से भी जुड़ा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.