ताज़ा खबर
 

एक्सप्रेस ट्रेन में मिला विस्फोटक और धमकी भरा पत्र, लिखा- चुकाना पड़ेगा दुजाना का बदला

लेटर में लिखा है "दुजाना की शहादत का बदला अब हिन्दुस्तान को चुकाना पड़ेगा।"

अमेठी में बुधवार देर रात अकाल तख्त एक्सप्रेस ट्रेन में कम तीव्रता वाला एक विस्फोटक पाया गया है। सूचना मिलते ही ट्रेन के दो डिब्बे खाली कराए गए और पुलिस के साथ-साथ बम निरोधक दस्ते को भी बुलाया गया। विस्फोटक को निष्क्रिय करने के बाद ही ट्रेन को आगे बढ़ाया गया। न्यूज एजेंसी एएनआई से सरकार रेलवे पुलिस के एसपी सौमित्र यादव ने कहा, “कम तीव्रता वाला विस्फोटल बरामद हुआ था, जिसे तुरंत ही निष्क्रिय कर दिया गया।” घटना स्थल से एक लेटर भी बरामद हुआ है। एएनआई के मुताबिक, लेटर में लिखा है “दुजाना की शहादत का बदला अब हिन्दुस्तान को चुकाना पड़ेगा।”

पीटीआई के मुताबिक, अकालतख्त एक्सप्रेस में बम की सूचना मिलने पर ट्रेन को उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में रोककर उसकी तलाशी ली गयी। इस दौरान एक पैकेट से सुतली बम और एक खत बरामद किया गया। रेलवे पुलिस के अनुसार लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर राजकीय रेलवे पुलिस को कोलकाता से अमृतसर जा रही अकालतख्त एक्सप्रेस में बम रखा होने की सूचना मिली थी। उसके आधार पर ट्रेन को 9-10 अगस्त की दरमियानी रात करीब डेढ़ बजे अमेठी में रोककर तलाशी ली गयी।

उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान एक पैकेट में सुतली बम, दो लाइटर और एक खत मिला। खत में जम्मू-कश्मीर में गत एक अगस्त को मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादी अबू दुजाना की मौत का बदला लेने की बात कही गयी है। अपर पुलिस अधीक्षक बी. सी. दुबे ने बताया कि बम को निष्क्रिय कर दिया गया। उसके बाद ट्रेन अकबरगंज रेलवे स्टेशन के लिये रवाना हो गयी। उन्होंने कहा कि बम को फोरेंसिक जांच के लिये भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

मालूम हो कि पाकिस्तान का रहने वाला दुजाना दक्षिणी कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा का मंडलीय कमाण्डर था। वह भारतीय सेना द्वारा जम्मू-कश्मीर में चिह्नित किये गये प्रमुख 10 आतंकवादियों में शामिल था। दुजाना गत एक अगस्त को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग