May 23, 2017

ताज़ा खबर

 

आप विधायकों को 21 तक जवाब देने का निर्देश

चुनाव आयोग ने संसदीय सचिव मामले में आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों को 21 अक्तूबर तक जवाब देने का समय दिया है।

Author नई दिल्ली | October 19, 2016 02:07 am

चुनाव आयोग ने संसदीय सचिव मामले में आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों को 21 अक्तूबर तक जवाब देने का समय दिया है। चुनाव आयोग की ओर से दिए गए 17 अक्तूबर के अल्टीमेटम के बावजूद संसदीय सचिव बनाए गए ज्यादातर आप विधायकों ने जवाब नहीं दिया था और आयोग से तारीख आगे बढ़ाने की मांग की थी। मंगलवार को चुनाव आयोग की ओर से विधायकों को जारी आदेश में कहा गया है कि उन्हें 21 अक्तूबर तक मामले में अपना जवाब देने का समय दिया जाता है, लेकिन इस जवाब की एक प्रति याचिकाकर्ता को 20 अक्तूबर तक मिल जानी चाहिए। आयोग ने यह भी कहा कि विधायकों के जवाब शपथ पत्र के साथ पांच प्रतियों में होने चाहिए। चुनाव आयोग के पिछले हफ्ते के निर्देश के अनुसार मामले में याचिकाकर्ता प्रशांत पटेल को 21 अक्तूबर तक विधायकों के जवाब का प्रत्युत्तर देना है। संसदीय सचिव मामले में शामिल आप विधायक मदनलाल ने कहा, ‘चुनाव आयोग का व्यवहार ऐसा है मानों हम बोझ बन गए हों, 2500 पन्नों के दस्तावेज के जवाब के लिए 3 दिन का समय दे रहे हैं। इतनी जल्दी की जरूरत क्या है, क्या वह हमें दिवाली का तोहफा देना चाहते हैं।’

केजरीवाल सरकार की ओर से संसदीय सचिव नियुक्त किए गए 21 आप विधायकों के मामले में चुनाव आयोग ने पिछले हफ्ते सख्त रुख अपनाते हुए अल्टीमेटम जारी किया था और कहा था कि अगर 17 अक्तूबर तक आप विधायकों के जवाब नहीं आए तो आयोग मानेगा कि उनके पास कहने के लिए कुछ भी नहीं है और आयोग उन्हें संदर्भ में लिए बिना फैसला करेगा। आप विधायकों ने 7 अक्तूबर को पत्र लिखकर जवाब दाखिल करने की तारीख को आगे बढ़ाने का आग्रह किया था और साथ ही दिल्ली सरकार द्वारा आयोग को दिए गए दस्तावेजों की ठोस प्रति भी मांगी थी। आयोग ने कहा था कि दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी पहले ही उन्हें दी जा चुकी है और ठोस प्रति देने के लिए आयोग बाध्य नहीं है। प्रशांत पटेल की याचिका के आधार पर संसदीय सचिव बनाए गए आम आदमी पार्टी के 21 विधायकों पर पिछले एक साल से सदस्यता रद्द होने की तलवार लटक रही है। पटेल की याचिका में कहा गया था कि संसदीय सचिव का पद लाभ का पद है, ऐसे में क्यों न इनकी सदस्यता रद्द की जानी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 19, 2016 2:06 am

  1. No Comments.

सबरंग