December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

दिवाली-2016: दिल्ली के लोग 3 सालों में सबसे ज्यादा प्रदूषित हवा में मनाएंगे दीपोत्सव

सफर ने चेतावनी दी है कि नोएडा, पूसा रोड, दिल्ली विश्वविद्यालय, मथुरा रोड, पालम, धीरपुर, आयानगर और लोधी रोड में भी प्रदूषण का स्तर ज्यादा रह सकता है।

अगर पटाखों की संख्या 50 फीसदी कम कर दें तो हवा जहरीली होने से बच सकती है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हवा लगातार प्रदूषित हो रही है। शुक्रवार को यहां का एयर क्वालिटी इंडेक्स उच्चतम स्तर पहुंच गया। यह इंडेक्स 397 रहा जो खतरनाक स्तर से मात्र 3 प्वाइंट कम है। खतरनाक स्तर की शुरुआत 400 से होती है। लिहाजा, माना जा रहा है कि दिवाली पर दिल्ली की हवा और बदतर हो सकती है। अर्थ साइंस मिनिस्ट्री की ओर से चलाई जा रही संस्था ‘सफर’ के मुताबिक दिवाली और उसके एक दिन बाद दिल्ली की एयर क्वालिटी खतरनाक स्तर को पार कर सकती है।

सफर ने कहा कि अगर हवा तेज रही तो उसमें सुधार हो सकता है। संस्था की ओर से कहा गया है कि दिवाली पर प्रति क्यूबिक मीटर हवा में पीएम 2.5 पार्टिकल्स 322 माइक्रोग्राम हो सकते हैं। पिछले साल यह 2.5 पार्टिकल्स की संख्या 260 थी। सफर सुपर कम्प्यूटर से तैयार मॉडल के आधार पर ही अनुमान जारी करती है। संस्था के मुताबिक अगर लोग पटाखों की संख्या 50 फीसदी कम कर दें तो हवा जहरीली होने से बच सकती है।

वीडियो देखिए- पटाखे कम जलाएं, जिंदगी बचाएं

इसके साथ ही सफर ने चेतावनी दी है कि नोएडा, पूसा रोड, दिल्ली विश्वविद्यालय, मथुरा रोड, पालम, धीरपुर, आयानगर और लोधी रोड में भी प्रदूषण का स्तर ज्यादा रह सकता है। दिवाली पर हर साल दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है लेकिन सरकार द्वारा इसके लिए कुछ ठोस उपाय नहीं किया जाता है। वैसे इस बार दिल्ली सरकार ने कुछ जहों पर एयर प्यूरिफायर लगाने की बात कही है।

सरकारी कोशिशों से अलग सोशल मीडिया पर राजधानी में प्रदूषण के खतरे को देखते हुए, धुएं वाले पटाखे नहीं फोड़ने और आतिशबाज़ी को कम करने की अपील की जा रही है और लोग भी यही महसूस कर रहे हैं।

Read Also- दिवाली पूजा विधि 2016: लक्ष्मी पूजन में बहुत खास होती है ये सामग्री, पढ़ें क्या है पूजा के सही विधि

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 29, 2016 1:23 pm

सबरंग