ताज़ा खबर
 

कामकाजी महिलाओं के लिए छह हॉस्टल बनाएगी दिल्ली सरकार

दिल्ली सरकार कामकाजी महिलाओं के लिए छह हॉस्टलों का निर्माण करेगी।
Author नई दिल्ली | April 22, 2017 02:06 am
अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया। (फाइल फोटो)

दिल्ली सरकार कामकाजी महिलाओं के लिए छह हॉस्टलों का निर्माण करेगी। दिल्ली सरकार की ओर से शुक्रवार को जारी बयान के मुताबिक, द्वारका स्थित पहला हॉस्टल बनकर तैयार हो गया है और जल्द ही इसमें जरूरतमंद कामकाजी महिलाओं का दाखिला शुरू कर दिया जाएगा। सरकार की ओर से यह जानकारी दिल्ली महिला आयोग के इस बारे में जारी किए गए नोटिस के जवाब में दी गई है। इसमें दिल्ली सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से आयोग को बताया गया कि विश्वास नगर और रोहिणी में दो हॉस्टल पहले से चल रहे हैं। जबकि विभिन्न इलाकों में छह नए हॉस्टल बनाए जा रहे हैं।

बाहरी राज्यों से नौकरी के सिलसिले में दिल्ली आने वाली महिलाओं की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए इनके लिए सुरक्षित आवास सुविधा मुहैया कराने के बारे में आयोग ने सरकार से इस दिशा में किए जा रहे प्रयासों की जानकारी मांगी थी। इस पर महिला एवं बाल विकास विभाग ने बताया कि सरकार द्वारा संचालित दो महिला हॉस्टल की क्षमता 212 है। सरकार ने स्वीकार किया है कि मौजूदा क्षमता जरूरत से काफी कम है। इसलिए इसे बढ़ाने के लिए छह नए हॉस्टल का निर्माण कार्य चल रहा है।

द्वारका में एक हॉस्टल बनकर तैयार है जबकि 6 करोड़ रुपए की लागत से दिलशाद गार्डन में दूसरे हॉस्टल के लिए जमीन खरीद ली गई है। इसके अलावा पीतमपुरा, बसंत गांव, तुगलकाबाद और जनकपुरी में अन्य हॉस्टल बनाने की औपचारिक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने बताया कि दूसरे राज्यों से दिल्ली आने वाली कामकाजी महिलाओं को फिलहाल निजी हॉस्टल का ही सहारा है। कामकाजी महिलाओं की ओर से आयोग को हाल ही में भेजे प्रतिवेदन में सरकार से महिला हॉस्टल की संख्या बढ़ाने को कहने का अनुरोध किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग