December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी से परेशान जनता के हित में अखिलेश यादव ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 500 और हजार रुपए के नोटों का चलन बंद किये जाने बाद उपजे हालात से परेशान राज्य की जनता से सहानुभूति व्यक्त करते हुए आज जिलाधिकारियों को दिए पेश आने के निर्देश।

Author लखनऊ | November 23, 2016 13:58 pm
उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव। (File Photo)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 500 और हजार रुपए के नोटों का चलन बंद किये जाने बाद उपजे हालात से परेशान राज्य की जनता से सहानुभूति व्यक्त करते हुए आज जिलाधिकारियों तथा पुलिस अधीक्षकों को मुश्किलजदा किसानों, गरीबों, मजदूरों, महिलाओं सहित जनता के सभी वर्गों के साथ सहानुभूति एवं संवेदनशीलता के साथ पेश आने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने यहां एक बयान में कहा कि नोटबंदी से परेशान जनता को प्रदेश सरकार हर सम्भव मदद उपलब्ध कराने के लिए खड़ी है। सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों से कहा गया है कि वे नोटबन्दी की समस्या से परेशान किसानों, गरीबों, मजदूरों, महिलाओं सहित जनता के सभी वर्गों के साथ सहानुभूति एवं संवेदनशीलता के साथ पेश आयें।

अखिलेश ने जिला प्रशासन को आगाह किया है कि नोटबन्दी के मामले में जनता के साथ अशोभनीय व्यवहार पर जिम्मेदार कार्मिकों के विरूद्घ सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस मौसम में रबी की बोआई का काम चल रहा है, ऐसे में सभी जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि किसानों को नोट बन्दी के फलस्वरूप बीज एवं उर्वरक सहित अन्य कृषि निवेश प्राप्त करने में कठिनाई ना हो।

मुख्यमंत्री ने यह भी चेतावनी दी है कि इस मामले में किसी भी प्रकार की लापरवाही से किसानों के साथ-साथ पूरे देश एवं प्रदेश की खाद्य सुरक्षा पर असर पड़ेगा लिहाजा सभी जिलाधिकारी सतर्क रहकर रबी बुआई से सम्बन्धित किसानों की समस्याओं का तत्काल निराकरण करायें।

मालूम हो कि फतेहपुर की एक बैंक शाखा के बाहर कतार में लगे लोगों पर एक पुलिसकर्मी द्वारा बर्बरतापूर्ण तरीके से लाठी चलाये जाने का वीडियो सामने आने पर मुख्यमंत्री ने कल फतेहपुर के पुलिस अधीक्षक तथा आरोपी पुलिसकर्मी को निलम्बित कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 23, 2016 1:57 pm

सबरंग