ताज़ा खबर
 

डीडीसीए विवाद: केजरीवाल बोले, मानहानि के मामलों से नहीं डरेगी आप

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘जेटली को हमारे खिलाफ मामले दर्ज कराके हमें डराने का प्रयास नहीं करना चाहिए। भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। जेटली जी को जांच आयोग के साथ सहयोग करना चाहिए और वहीं अपनी बेगुनाही साबित करनी चाहिए।’’
Author नई दिल्ली | December 22, 2015 01:33 am
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (File Photo)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से उनके और उनकी पार्टी के पांच नेताओं के खिलाफ दायर कराए गए मानहानि के दीवानी और फौजदारी मामलों से आम आदमी पार्टी नहीं डरेगी और उन्होंने जेटली से डीडीसीए मामले में जांच आयोग के समक्ष अपनी बेगुनाही साबित करने को कहा।

केजरीवाल ने कहा कि जेटली को उस जांच आयोग के साथ सहयोग करना चाहिए जिसे दिल्ली सरकार ने डीडीसीए में कथित अनियमितताओं की जांच के लिए गठित किया है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘जेटली को हमारे खिलाफ मामले दर्ज कराके हमें डराने का प्रयास नहीं करना चाहिए। भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। जेटली जी को जांच आयोग के साथ सहयोग करना चाहिए और वहीं अपनी बेगुनाही साबित करनी चाहिए।’’

जेटली ने सोमवार को केजरीवाल और पांच अन्य आप नेताओं के खिलाफ मानहानि के मामले दायर किए और 10 करोड़ रुपये के क्षतिपूर्ति की मांग की। आप के नेता केन्द्रीय वित्त मंत्री के खिलाफ निशाना साधे हुए हैं। आप के नेता संजय सिंह ने कहा, ‘‘मंत्री पद की अपनी जिम्मेदारियों को छोड़कर जेटली अदालतों के चक्कर लगा रहे हैं। परंतु हम इस मामले को दबने नहीं देंगे। हम डीडीसीए के मामलों को लेकर उनको भ्रष्ट ठहराते रहेंगे।’’

आप नेता आशुतोष ने कहा कि जेटली को हमें जेल की धमकी नहीं देनी चाहिए और उन्हें तो हमारे सवालों का जवाब देना चाहिए। भाजपा के शीर्ष नेताओं ने भी केजरीवाल पर निशाना साधा। इस बीच, दिल्ली कैबिनेट ने डीडीसीए मामले की जांच के लिए एक सदस्यीय जांच आयोग गठित करने को मंजूरी दी। दिल्ली सचिवालय में सीबीआई के छापे और डीडीसीए के मामलों पर चर्चा के लिए मंगलवार को दिल्ली विधानसभा का सत्र बुलाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग