ताज़ा खबर
 

योगी आदित्यनाथ के राज में बढ़ रहा सांप्रदायिक तनाव, बदायूं के बाद हापुड़ में भी भड़की नफरत की आग

बदायूं के सिसरका गांव में साध्वी प्राची के बयानों से स्थिति और तनाव भरी हो गई तो हापुड़ में दो समुदायों में झड़प हो गई।
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के बदायूं के सिसरका गांव में सोमवार को उस वक्त तनाव फैल गया जब हिंदूवादी नेता साध्वी प्राची ने गांव में पहुंचकर बन रही मस्जिद को लेकर कथित तौर पर बयानबाजी की। स्टेशन हाउस अफसर के मुताबिक साध्वी ने कहा कि वह अवैध जमीन पर कोई भी ढांचा नहीं बनने देंगी। उन्होंने यह भी बताया कि साध्वी ने उस जगह का भी दौरा किया था। पिछले शुक्रवार को गांव में उस वक्त सांप्रदायिक झड़प हुई थी जब मुसलमानों ने पहली बार नमाज अदा की। मुस्लिमों ने बताया कि गांव के पूर्व प्रधान ने उन्हें यह जमीन डोनेट की थी, लेकिन हिंदुओं ने ढांचे को अवैध बता दिया।

साध्वी प्राची, विश्व हिंदू परिषद, विहिप, साध्वी प्राची का विवादित बयान, साध्वी प्राची के विवादित बोल, योग, पाकिस्तान, ऑल इंडिया मुसलिम पर्सनल लॉ बोर्ड, Sadhvi Prachi, Yoga, Pakistan, Vishwa Hindu Parishad, AIMPLB, Hamid Ansari, World Yoga Day हिंदूवादी नेता साध्वी प्राची पहले भी कई बार आपत्तिजनक बयान दे चुकी हैं।

 

हापुड़ जिले में भी तनाव: उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के उपेदा गांव में भी दो समुदायों में झड़प के बाद पिछले एक हफ्ते से स्थिति तनावभरी है। एक समुदाय के युवकों पर हमले के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है और दो आरोपों को गिरफ्तार किया गया है। शिकायतकर्ता शाकिब के पिता निजाम ने बताया कि अन्य समुदाय के 4 युवकों ने 29 मार्च को शाकिब, उसके कजिन समीर, सुहैल और उनके अंकल साबू पर उस वक्त आपत्तिजनक टिप्पणियां कीं, जब वह नमाज अदा कर लौट रहे थे। निजाम, शाकिब और अन्य बहस में नहीं पड़े और घर लौट आए। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बाद भी आरोपी उनका पीछा करते रहे और उन पर हमला कर दिया।

इसके बाद उन्होंने और उनके कजिन सलीम ने बीच-बचाव करने की कोशिश की, लेकिन उनके साथ भी मारपीट की गई। बाबूगढ़ के एसएचओ जितेंद्र कुमार ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है। धर्म के आधार पर दो समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने सहित कई आरोप इन लड़कों पर लगाए गए हैं। इन नाबालिग लड़कों की पहचान नानू, संदीप और प्रिंस के तौर पर हुई है। नानू और संदीप को गिरफ्तार कर लिया गया है।

एफआईआर के बाद हमले की आशंका को देखते हुए सलीम खान ने अपने परिवार को दूर भेज दिया है। उन्होंने बताया कि कुल पांच परिवारों को दूर भेजा गया है, जिसमें मेरा, निजाम और हमारे कजिन का परिवार शामिल है। अधिकारियों से सुरक्षा का भरोसा मिलने के बाद हम उन्हें वापस बुला लेंगे। हालांकि सर्किल अॉफिसर शिव प्रसाद दुबे ने दावा किया है कि इन लोगों के परिवार अपने रिश्तेदारों से मिलने गए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा- "सूर्य नमस्कार और नमाज एक समान", देखें वीडियोः

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ के साथ गोशाला पहुंचे प्रतीक यादव और अपर्णा यादव

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. परस
    Apr 4, 2017 at 10:10 pm
    वो सारे गद्दार एक हो गए है पर शेर इनको एक दिन अपना ग्रास बना लेगा . अब सत्ता में शेर है कोई मन्नू या अक्कल लेस जैसा सुवर नहीं . ये पेपर भी एक दिन इसकी मौत मरेगा
    (0)(0)
    Reply
    1. J
      Jitendra
      Apr 4, 2017 at 10:34 am
      This news paper look like mouthpiece of ISI or any other anti-India organizations. You are spreading communal violence by this kind of news. People of India now watching you & your gang. Therefore Yogi is CM and Modi is PM. For 13 years you've continuously said that MODI is m murder against the Indian judiciary.
      (0)(0)
      Reply