ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़: कांकेर में नक्सलियों ने की तीन अदिवासी युवकों की हत्या, शवों को सड़क पर फेंका

पुलिस अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों ने तीनों आदिवासियों पर पुलिस का साथ देने तथा मुखबिरी करने का आरोप लगाया है।
Author रायपुर | October 1, 2016 16:08 pm
जंगल में चहलकदमी करते नक्सली। (प्रतीकात्मक चित्र)

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित कांकेर जिले में नक्सलियों ने तीन आदिवासी युवकों की धारदार हथियार से हत्या कर उनके शवों को सड़क पर फेंक दिया। कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक एम एल कोटवानी ने शनिवार (1 अक्टूबर) को बताया कि जिले के आमाबेड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत हुर्रापिंजोड़ी गांव में नक्सलियों ने तीन आदिवासी युवकों जैन कुमार हुर्रा (22), अंतुराम हुर्रा (24) और मानक राम हुर्रा (32) की धारदार हथियार से हत्या कर दी है।

कोटवानी ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि बीती रात क्षेत्र की डिवीजनल कमेटी के सदस्य रमेश और चारगांव लोकल ऑपरेशन स्क्वाड (एलओएस) कमांडर सोनू समेत लगभग आठ नक्सली सदस्य हुर्रापिंजोड़ी गांव पहुंचे। नक्सलियों ने गांव में जैन कुमार, अंतुराम और मानक राम के घर धावा बोला और उन्हें अपने साथ जंगल की ओर ले गए। बाद में नक्सलियों ने तीनों की धारदार हथियार से हत्या कर उनके शवों को सड़क पर फेंक दिया और वहां से फरार हो गए।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों ने तीनों आदिवासियों पर पुलिस का साथ देने तथा मुखबिरी करने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस दल को घटनास्थल रवाना किया गया और शवों को बरामद किया गया। पुलिस ने आरोपी नक्सलियों की तलाश शुरू कर दी है। कोटवानी ने कहा कि मारे गए आदिवासी युवकों का पुलिस से कोई संबंध नहीं है तथा मुखबिर होने का आरोप भी गलत है। अधिकारी ने कहा कि क्षेत्र में नक्सलियों की पकड़ ढीली होती जा रही है, इसलिए वह अब निराशा में अपना गुस्सा अदिवासियों पर निकाल रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 1, 2016 4:08 pm

  1. No Comments.
सबरंग