December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

वीडियो: कुछ ही सेकेंड में ताश के पत्तों की तरह भरभरा कर गिर गई यह 11 मंजिला इमारत

यह इमारत उस क्षेत्र में रहने वाले लोगों के लिए खतरा बनी हुई थी।

Author November 3, 2016 12:47 pm
इस इमारत को असुरक्षित घोषित कर दिया गया था। (Photo- Video Screenshot)

साल 2014 में बगल की एक इमारत के गिरने के बाद असुरक्षित करार दी गई 11 मंजिला एक इमारत को कड़ी सुरक्षा के बीच विस्फोटक तकनीक का इस्तेमाल कर 10 सेकेंड से भी कम समय में बुधवार को गिरा दिया गया। भवन ताश के पत्तों की तरह भरभरा कर गिर गया। भवन के ढहने से क्षेत्र में धूल का गुबार फैल गया। भवन के ढांचे में विस्फोटक सामग्री डाल दी गई थी और नियंत्रित तरीके से विस्फोट किया गया। भवन को गिराने में दो घंटे की देरी होने को लेकर दहशत की स्थिति रही। कांचीपुरम की जिलाधिकारी आर गजलक्ष्मी ने बताया था कि भवन को दो से चार बजे के बीच गिरा दिया जाएगा। लेकिन इसे शाम को करीब छह बजे गिराया गया। मौलीवक्कम में 28 जून 2014 को एक निर्माणाधीन रिहाइशी भवन के दो खंडों में से एक गिर गया था, जिसमें 61 मजदूरों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। जो हिस्सा गिर गया वह भी 11 मंजिला था। इसके बाद यह इमारत असुरक्षित घोषित कर दी गई थी। यह इमारत स्थानीय लोगों के लिए खतरा बनी हुई थी। स्थानीय लोगों को डर बना हुआ था कि यह इमारत कभी भी गिर सकती है। इमारत गिरने के बाद इस इलाके में रहने वाले लोगों ने राहत की सांस ली।

वीडियो में देखें- रामनाथ गोयनका अवॉर्ड्स: मीडिया की भूमिका पर बोले पीएम मोदी

इमारत में विस्फोट करने से पहले इसकी कुछ दीवारें तोड़कर इसे कमजोर कर दिया गया था। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए पूरे इंतजाम किए गए थे। 100 मीटर के दायरे में रहने वाले लोगों को दूरे रहने को कहा गया था। इसके साथ ही एंबुलेंस और फायर बिग्रेड भी तैनात थीं। इस ओर आने वाले ट्रैफिक को दूसरी ओर मोड़ दिया गया था और इलाके की पावर सप्लाई को भी काट दिया गया था। स्थानीय लोगों को तब एक नजदीकी हॉल में रखा गया था, जब तक इमारत को ढहाया नहीं गया। कई लोग इमारत को गिरते हुए अपने घरों की छत से देख रहे थे।

यहां देखें वीडियो-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 3, 2016 12:47 pm

सबरंग