ताज़ा खबर
 

बिहार: सात दिन में दूसरे NDA नेता की हत्‍या, LJP के बाद अब BJP उपाध्‍यक्ष को मारी गोली

अपराधियों ने बिहार बीजेपी के उपाध्‍यक्ष विशेश्‍वर ओझा को निशाना बनाया।
Author पटना | February 12, 2016 19:43 pm
विशेश्‍वर ओझा को भोजपुर के सोनवर्षा में गोली मारी गई। उन्‍होंने शाहपुर से विधानसभा चुनाव लड़ा था। (Source: Facebook)

बिहार में एक और नेता की हत्‍या कर दी गई है। इस बार अपराधियों ने बिहार बीजेपी के उपाध्‍यक्ष विशेश्‍वर ओझा को निशाना बनाया है। उन्‍हें 12 फरवरी को भोजपुर के सोनवर्षा में गोली मारी गई। उन्‍होंने शाहपुर से विधानसभा चुनाव लड़ा था। ठीक एक हफ्ते पहले, 5 फरवरी को अपराधियों ने लोजपा के एक नेता की हत्‍या की थी।

लोजपा भाजपा और केंद्र में एनडीए सरकार की सहयोगी है। 5 फरवरी को पटना जिले के फतुहा थाना क्षेत्र के कच्ची दरगाह घाट के समीप 55 साल के लोजपा नेता बृजनाथी सिंह की हत्या गोली मारकर कर दी गई थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    amrit
    Feb 12, 2016 at 6:38 pm
    जी और होना चाहिए । जोलोग को उसने बोलना सिखया और उसे ही बेइज़त करो तो भगा भगा के से उड़ा दो ।।
    Reply
  2. A
    amrit
    Feb 12, 2016 at 6:45 pm
    जो इन नेताओ के बारे में नहीं जनता उसे आस्चर्य होता होगा मेरी बस चले तो इन नीच काम करने वाले को कभी जीने का हक़ नहीं देना चाहिए ।।जिसने तुम्हे बोलने की हक़ दी उसी पर धौंश कैसे चलेगा ।।तुम्हें आजदी दी ताकि तुम तरकी करते हुए अपने नाम रौसन करो इसका मतलब ये नहीं की तुम अब खुद को इतना बड़ा समझ लो की तेरे सामने कुछ है ही नहीं।।।लालु यादव, नितीश कुमार जिन्दावाद.....चुन चुन के मारो इन सालो को।।।तेरी जय हो ।।
    Reply
  3. A
    amrit
    Feb 15, 2016 at 10:18 pm
    ये नितीश-लालु की चल है की एक एक करके जो बिहार में उसके खिलाफ बोलेगा उसे मर देगा इसमें पहला निशाना बीजेपी के नेतओं के ऊपर है ।।
    Reply
  4. M
    manoj
    Feb 13, 2016 at 7:28 am
    गैंगवार करने वाले खुद भी इसका शिकार हो जाते है चाहे वो किसी भी पार्टी के हो इन गुंडों की कोई जात नहीं होती
    Reply
  5. R
    Rajeev Mishra
    Feb 12, 2016 at 6:28 pm
    ये ओझा जी जिनका मर्डर हुआ है वो भी नमी गुण्डा थे उन पर २५००० का इनाम जमीं कब्ज़ा करना उनका मैं धंदा था वैसे २००६ में दिल्ली पुलिस ने भी इनको अपराध करने के करण गिरफ्तार किया था जो भी हो नितीश राज में इनके हत्यारे बच नहीं प६एगे
    Reply
  6. P
    pankaj
    Feb 12, 2016 at 6:31 pm
    ये नेता कम और अपराधी जयादा था अपराध जगत में इनकी टूटी बोलती थी
    Reply
  7. P
    Parmatma Rai
    Feb 12, 2016 at 3:05 pm
    बिहार में चुन-चुन कर एन ड़ी ए नेताओं को मारा जा रहा है,यह लालू की पुरानी राजनीति है,नितीश के मुखौटे के पीछे वह अपना काम कर रहे हैं. बिहार तो इस माे में यु पी से भी आगे हो गया है.
    Reply
  8. S
    Sidheswar Misra
    Feb 13, 2016 at 3:03 am
    बिहार सरकार को इन दोनों राष्ट्र भक्त बीजेपी ,लजेपी नेताओं का कुंडली जनता के बीच लानी चाहिए .
    Reply
  9. Load More Comments
सबरंग