June 29, 2017

ताज़ा खबर
 

भाजपा साबित करे कि वह AIADMK के अंदरूनी मामले में हस्तक्षेप नहीं कर रही है: स्टालिन

द्रमुक का कहना है कि अन्नाद्रमुक के अंदरूनी कलह में भाजपा की कोई भूमिका नहीं होने के तर्क को तभी स्वीकार किया जा सकता है अगर केंद्र सरकार राज्य में हाल में आयकर विभाग की छापेमारी के दायरे में आए सत्तारूढ़ दल के पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करती ।

Author चेन्नई | May 1, 2017 18:27 pm
एमके स्टालिन

द्रमुक का कहना है कि अन्नाद्रमुक के अंदरूनी कलह में भाजपा की कोई भूमिका नहीं होने के तर्क को तभी स्वीकार किया जा सकता है अगर केंद्र सरकार राज्य में हाल में आयकर विभाग की छापेमारी के दायरे में आए सत्तारूढ़ दल के पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करती ।
पिछले वर्ष के विधानसभा चुनावों के बाद जिन पदाधिकारियों के परिसरों पर आयकर अधिकारियों द्वारा छापेमारी की गई, उनके नाम लेते हुए द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने पूछा कि छापेमारी के बाद क्या कार्रवाई हुई है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा के इस दावे को स्वीकार करने को तैयार हैं कि अन्नाद्रमुक में चल रहे कलह से उसका कोई लेना देना नहीं है… अगर इन छापेमारी के बाद कार्रवाई की गई होती। स्वास्थ्य मंत्री सी. विजयभास्कर, राज्य के पूर्व मुख्य सचिव पी. राममोहन राव, करूर के व्यवसायी सी पी अनबुनाथन के परिसरों पर आयकर की छापेमारी का स्टालिन जिक्र कर रहे थे। 2016 के विधानसभा चुनावों से पहले हुई छापेमारी में 4 . 77 करोड़ रूपये बरामद किए गए थे।

उन्होंने जानना चाहा कि इन छापेमारी के बाद क्या कार्रवाई की गई। मई दिवस समारोहों में हिस्सा लेने के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए द्रमुक के शीर्ष नेता ने कहा कि आयकर कर छापेमारी के बाद ‘‘पारदर्शी कार्रवाई’’ की जानी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘यह छलावा नहीं होना चाहिए।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 1, 2017 6:27 pm

  1. No Comments.
सबरंग