ताज़ा खबर
 

भाजपा विधायक बोले- असली किसान कभी आत्‍महत्‍या नहीं करता, मरे वही किसान हैं जो सब्सिडी चाटने का व्‍यापार करते थे

विधायक रामेश्‍वर शर्मा ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मरे वो किसान हैं जो किसान कम और सब्सिडी चाटने का व्‍यापार ज्‍यादा करते हैं।
मध्‍य प्रदेश के एक भाजपा विधायक ने आत्‍महत्‍या करने वाले किसानों पर आपत्तिजनक बयान दिया है।

मध्‍य प्रदेश के एक भाजपा विधायक ने आत्‍महत्‍या करने वाले किसानों पर आपत्तिजनक बयान दिया है। विधायक रामेश्‍वर शर्मा ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मरे वो किसान हैं जो किसान कम और सब्सिडी चाटने का व्‍यापार ज्‍यादा करते हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के वीडियो के अनुसार शर्मा कहते दिख रहे हैं, ”हमने अच्‍छे-अच्‍छे पैसे वालों को मरते देखा है लेकिन असली किसान को आज भी लड़ते देखा है मरते नहीं देखा। मरे वे किसान हैं जो किसानी कम बल्कि सब्सिडी चाटने का व्‍यापार ज्‍यादा करते हैं। मरे वे लोग हैं जिन्‍होंने किसानी को बदनाम किया है। उन्‍होंने सोच लिया कि मेरी खेती है, मैं एक एकड़ जमीन पर 50 क्विंटल गेंहू उगाऊंगा। तू तो क्‍या भगवान भी आए तो नहीं उगा सकता भाई। हम लोग किसान हैं नहीं उगा सकते लेकिन तुम लोगों ने खेती को भी बदनाम किया है।”

बाद में मीडियाकर्मियों से बातचीत में भी शर्मा अपने बयान पर कायम रहे। उन्‍होंने बताया कि असली किसान कभी आत्‍महत्‍या नहीं करता। कुछ  लोग जिन्‍होंने नंबर दो पैसे बनाए,  कर्ज उठाया, दारू पी, इन्‍होंने ही बदनाम किया। वे भोपाल की हुजूर सीट से विधायक हैं। पहली बार नहीं है कि उन्‍होंने इस तरह का आपत्तिजनक बयान दिया है। इससे पहले भी कई बार वे अपने बयानों के चलते विवादों में रहे हैं। शर्मा पिछले दिनों नगरपालिका सीईओ को फोन पर धमकाने के चलते विवादों में थे। इससे पहले सर्जिकल स्‍ट्राइक के समय उन्‍होंने दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर भी विवादित टिप्‍पणी की थी।

उन्‍होंने सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगे जाने पर कहा था कि जो लोग सेना के जवानों पर सवाल उठा रहे हैं वे वैसे ही लोग हैं जो अपने माता-पिता के सुहागरात का वीडियो देखने के बाद ही अपनी वंशावली पर विश्‍वास करते हैं। भारतीय सेना देश के लिए बलिदान दे रही है और खून बहा रही है। जो लोग इसे नहीं मानते वे देशद्रोही हैं। वे सभी पाकिस्‍तानी एजेंट हैं। उनकी भाषा और लहजा नवाज शरीफ से मिलता है। भाजपा नेताओं की ओर से किसान विरोधी बयान पहली बार नहीं है।

बीजेपी सांसद और किसान मोर्चा के अध्यक्ष विरेंद्र सिंह ने 10 जनवरी को कहा था कि नोटबंदी से किसानों को परेशानी होने की कोई खबर नहीं आई है। लेकिन इससे शादियों में होने वाले फालतू खर्चे और शराब के इस्तेमाल में खासी कमी आई है। लोन पर पैसे लेने से फिलजूलखर्ची की आदत हो जाती है। शास्त्रों का जिक्र करते हुए विरेंद्र सिंह ने कहा, ‘शास्त्रों में आधुनिकीकरण में सब कुछ प्रयोग में लाने को कहा गया है। आप लोगों को कंजूस होने के लिए कोई नहीं कह रहा लेकिन पैसे का फिजूल खर्ची भी ठीक नहीं है।’

आपको बता दें कि देश में किसानों की हालत काफी खराब है। इसके चलते देशभर में आत्‍महत्‍या करने वाले किसानों का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ा है। साल 2014 में 5650 किसानों ने सुसाइड की थी और 2015 में यह संख्‍या बढ़कर 8000 के पार चली गई थी। पंजाब, महाराष्‍ट्र, गुजरात, उत्‍तर प्रदेश में सबसे ज्‍यादा किसानों ने सुसाइड की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. S
    sach
    Feb 18, 2017 at 3:01 am
    कहाँ से लाते हैं इतना ज्ञान? क्या आरएसएस से ?? या आई एस आई से?
    (1)(0)
    Reply
    1. a
      a.k singh
      Feb 17, 2017 at 6:40 pm
      bjp ko ghamand ho gya he......
      (0)(0)
      Reply
      1. I
        Indian
        Feb 18, 2017 at 3:20 pm
        बन्दर क्या जाने अदरक का स्वाद ...
        (0)(0)
        Reply
        1. Bhagawana Upadhyay
          Feb 18, 2017 at 1:19 am
          Anahat Sagar ‏@AnahatSagar 16h16 hours agoलेकिन भाई, वो ड्रोन बीजेपी की रैली की भीड़ नही दिखाता जो 2014 लोकसभा चुनावों के वक़्त दिखाता था। मेरे कहने का मतलब तो समझ ही गये होंगे😂😜 …
          (0)(0)
          Reply
          1. Bhagawana Upadhyay
            Feb 18, 2017 at 1:19 am
            Suraj Singh ‏@surajsolanki 22h22 hours agoनोटबंदी के 100 दिन : एटीएम और बैंकों में कैश की भारी कमी, लोग हो रहे परेशान, विरोध स्वरूप देशभर में प्रोटेस्ट करेगी 'आप' : @navodayatimes
            (0)(0)
            Reply
            1. Bhagawana Upadhyay
              Feb 18, 2017 at 11:43 pm
              Bhrastachari justice kathawala pe Shivnarayan Sharma ka bayanRIGHT MIRROR Published on Feb 11, 2017Bhrastachari justice kathawala pe Shivnarayan Sharma ka bayanCategoryPeople & BlogsLicenseStandard YouTube License
              (0)(0)
              Reply
              1. Bhagawana Upadhyay
                Feb 19, 2017 at 1:54 am
                Rethink Aadhaar ‏@no2uid 11h11 hours ago.@Stupidosaur @thesuniljain "No caste relign" also false when govt making databases like Sarvam with UID as link-key …
                (0)(0)
                Reply
                1. Bhagawana Upadhyay
                  Feb 19, 2017 at 1:18 am
                  Rethink Aadhaar ‏@no2uid 16h16 hours agosmen of @reliancejio caught stealing fingerprint scans #Aadhaar data in Indore. Dainik Bhaskar Report attached. via @sambiohazard
                  (0)(0)
                  Reply
                  1. Bhagawana Upadhyay
                    Feb 19, 2017 at 1:46 am
                    india subsidy data ‏@databaazi 8 Nov 20163. the govt intends to merge all existing datasets (including SECC and NPR) into a single database with Aadhaar as the universal identifier.
                    (0)(0)
                    Reply
                    1. A
                      alka
                      Feb 17, 2017 at 5:25 pm
                      BJP kbi farmers ka acha soch hi ni skti...kiske p.m.bhi obc me janm ni lene k baad bhi khud ko lekar emotional blackmail kre..aisi ghatiya politics.. nobody works for removing caste system just spread hatred..pehle hindu muslim..aur ab saare yadav logo se ..chhi...kaisa desh...kaisi democracy
                      (0)(0)
                      Reply
                      1. Load More Comments
                      सबरंग