December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

एनडीटीवी के शो में जेएनयू छात्र और निर्मला सीतारमन के बीच हुई बहस, मंत्री ने दिया करारा जवाब

जेएनयू के छात्र ने जब सीतारमन को लगातार टोकना जारी रखा तो उन्होंने कहा कि ये केवल अपनी बात सुनाना चाहते हैं मेरे जवाब नहीं सुनना चाहते।

केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन की फाइल फोटो।

नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री और बीजेपी नेता निर्मला सीतारमन ने नोटबंदी पर गुरुवार (24 नवंबर) को एक टीवी डिबेट में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र को करारा जवाब दिया। भारत की वाणिज्य और उद्योग (स्वतंत्र प्रभार) तथा वित्त व कारपोरेट मामलों की राज्य मंत्री सीतारमन निजी समाचार चैनल एनडीटीवी के एक शो में नोटबंदी पर चर्चा कर रही थीं। कार्यक्रम के दौरान जेएनयू के एक छात्र ने सीतारमन से पूछा कि क्या सरकार जिन सब्जीवालों, रेहड़ीवालों और दूधवालों के पास बैंक खाते नहीं हैं या जो पेटीएम नहीं करते उन्हें बैंकिंग सिस्टम में शामिल न होने के लिए सजा दे रही है? छात्र ने सीतारमन से ये भी पूछा कि 500 और 1000 के नोटबंदी के बाद 2000 के नए नोट पहले लाना गलत नहीं था? छात्र ने कहा कि वो वंचित वर्ग और असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों के लिए ये सवाल पूछ रहा है।

सीतारमन ने छात्र के सवाल का जवाब देना शुरू किया तो वो उनकी बात को बार-बार काटने लगा। सीतारमन ने छात्र से कहा कि बहुत सारे सांसद वंचित वर्ग से आते हैं। केंद्रीय मंत्री इसके आगे बोल पातीं कि छात्र ने उन्हें टोकते हुए कहा, “वो वंचित वर्ग के प्रतीकात्मक प्रतिनिधि भर हैं।” छात्र की ये बात निर्मला सीतारमन को नागरवार गुजरी ने उन्होंने छात्र से पूछा, “क्या आप भारतीय मतदाताओं को कमतर करके नहीं आंक रहे हैं?” सीतारमन ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि भारतीय संसद में बीजेपी एवं अन्य पार्टियों में आरक्षित वर्गों, एसटी, एसटी और अल्पसंख्यक वर्गों के प्रतिनिधि हैं। छात्र ने एक बार फिर सीतारमन की बात बीच में काटते हुए कहा, “ये प्रोपगैंडा है…” इस पर सीतारमन भड़कते हुए बोलीं, “आप आरक्षण को, संविधान को प्रोपगैंडा बता रहे हैं…” इसके बाद दोनों के बीच नोंकझोंक होने लगी।

जब छात्र फिर भी चुप नहीं हुआ तो सीतारमन ने कहा कि आपकी राय महत्वपूर्ण है लेकिन आप दूसरों को भी सवाल पूछने का मौका दें। सीतारमन ने गुस्से में कहा, “…आप मुझे जवाब नहीं देने दे रहे हैं…बार बार माइक ले रहे हैं। आपका नजरिया ऐसा जैसे आपको कुछ नहीं आता और मुझे सब कुछ आता है।” छात्र ने फिर भी सीतारमन को टोकना जारी रखा तो उन्होंने दर्शकों से कहा कि ये केवल अपनी बात सुनाना चाहते हैं मेरे जवाब नहीं सुनना चाहते। सीतारमन ने कहा, “जेएनयू का छात्र होने के नाते मेरे लिए इनका ये रवैया हैरान कर देने वाला है।” आपको बता दें कि सीतारमन ने जेएनयू से अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है। नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र के मोबाइल ऐप सर्वे पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में सीतारमन ने कहा, “अगर आपको इस सर्वे पर संदेह है तो आप आम लोगों से जाकर बात करें। वो इस फैसले से खुश हैं।”

देखें निर्मला सीतारमन और जेएनयू छात्र के बीच बहस का वीडियो-

वीडियोः बैंक से नहीं बदलवा सकेंगे पुराने नोट; जानिए कहां-कहां चलेंगे 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट

वीडियोः नोटबंदी पर पीएम के सर्वे को शत्रुघ्न सिन्हा ने बताया प्लांटेड; कहा- मूर्खों की दुनिया में जीना बंद करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 25, 2016 11:37 am

सबरंग