ताज़ा खबर
 

सीबीआई छापों के बाद बोले लालू यादव- मिट्टी में मिल जाएंगे पर, नरेंद्र मोदी और भाजपा को मिटा देंगे

राजद अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस के लोग उन्हें परास्त करना चाहते हैं लेकिन वो टूटने वाले नहीं हैं।
आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव। (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष और पूर्व रेल मंत्री लालू यादव ने सीबीआई छापों के बाद कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्होंने कहा कि जो कुछ भी हो रहा है, वह राजनीतिक साजिश है। इसके साथ ही लालू यादव ने कहा कि वो मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन नरेंद्र मोदी और भाजपा को मिटा कर दम लेंगे। लालू ने कहा कि वो गरीबों की बात करते हैं, इसलिए उन्हें तोड़ने की साजिश की जा रही है। लालू ने कहा कि उन्होंने अपनी पत्नी और बच्चों को सीबीआई अधिकारियों से सहयोग करने को कहा है। उन्होंने कहा कि वे लोग अफसर हैं, उन्हें जैसा आदेश मिलेगा, वैसा करेंगे। इसलिए अधिकारियों को जांच में सहयोग करें।

राजद अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस के लोग उन्हें परास्त करना चाहते हैं लेकिन वो टूटने वाले नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वो भाजपा को कड़ा जवाब देंगे। पूरे विपक्ष को भाजपा की विफलताओं और साजिशों के खिलाफ लामबंद करेंगे। लालू यादव ने कहा कि भाजपा के शासन काल में  देश की हालत बद से बदतर हो चुकी है।

लालू यादव ने कहा कि उन्होंने हमेशा से अदालत का सम्मान किया है। सुबह में मुझे पता चला कि सीबीआई ने हमारे घर पर छापा मारा है। उन्होंने कहा, मुझे पता नहीं है कि सीबीआई ने ऐसा क्यों किया है? लालू यादव ने कहा कि उनकी पार्टी 27 अगस्त को पटना में विशाल रैली करने जा रही है। वहीं से भाजपा भगाओ, देश बचाओ का शंखनाद किया जाएगा। लालू ने कहा कि इस रैली से एक नई राजनीतिक लड़ाई का आगाज होगा।

बता दें कि लालू यादव के घर समेत 12 ठिकानों पर शुक्रवार सुबह सीबीआई ने छापेमारी की है। मामला रेल मंत्री रहते हुए एक प्राइवेट कंपनी को अवैध तरीके से फायदा पहुंचाने का है। इस मामले में सीबीआई ने बताया कि होटल लीज पर देने के बदले प्राइवेट कंपनी को फायदा पहुंचाया गया था और बदले में जमीन ली गई थी। 32 करोड़ की जमीन सिर्फ 65 लाख रुपए में अपने नाम करा ली गई थी। सीबीआई के एडिशनल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने कहा, “विभिन्न स्थानों पर आज सुबह 7.30 बजे रेड शुरू की गई थी और कुछ जगहों पर अभी भी जारी है। धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश का केस है। पुरी और रांची होटल के आवंटन में गड़बड़ी पाई गई है। जांच में गड़बड़ी पाए जाने के बाद FIR दर्ज की गई।” मामले में लालू यादव, पत्नी  पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव समेत सात लोगों को नामजद किया गया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. D
    Dev Verma
    Jul 7, 2017 at 7:37 pm
    चोर की कोई औकात नहीं होती लालू का तो पूरा खानदान ही चोर है. चोर किआ मिटेयगा बीजेपी को खुद की सोच पूरी दुनिआ में नंगा हो गया खानदान, अगर थोड़ी भी शर्म है तो चुल्लू भर पानी में डूब मर साले.
    (0)(0)
    Reply
    1. M
      Manoj
      Jul 7, 2017 at 5:14 pm
      लालूजी के टोटल सैलरी कितनी मिली जब यह मुख्यमंत्री थे ? संसद सदस्य के रूप में कितनी सैलरी मिली ? लालूजी का और कोई घोषित बिज़नेस नहीं है ? फिर मॉल के मालिक ? दिल्ली में करोड़ो के कोठी ? फार्म हाउस ? सब आया कहाँ से ? इनके नौकर भी इनको लाखो दान केर देते हैं ? देश की न्यायपालिका के आँखों पर पट्टी बंधी है देश के जनता के आँखों पर नहीं ? सब कहाँ से आया नहीं बताते है ? सिर्फ इल्जाम लगाते हैं ?
      (0)(0)
      Reply
      1. S
        sidheswar misra
        Jul 7, 2017 at 1:17 pm
        १४ मई २०१७ को तीन साल बीत गए .न मॅहगाई कम नौजवानो को नौकरी नही रेल भाड़े में बढ़ोतरी पिछली सरकारों के कामो का उद्घाटन जैसे इन्होने इसे बनवाया है। जो आज देश में दिख रहा है वह केवल इन्ही तीन वर्षो में बना। ६७ साल झोपड़पटी थी। जबाब माँगो तो हिन्दू विरोधी राष्ट्र विरोधी का राग सुरु ,दरोगा सिपाही के ारे विरोधियो को चुप ,बदनाम करने की निति। लोकपाल गायब ये है संघी सरकार
        (0)(0)
        Reply